ग़ाज़ीपुर जनपद ऑरेन्ज ज़ोन में

फैयाज़ खान मिस्बाही (ब्यूरो)

ग़ाज़ीपुररेड जोन सरकार ने उन जिलों की सूची जारी की है जिन्हें बड़े पैमाने पर कोरोना के प्रसार के चलते हॉटस्पॉट जिला घोषित किया गया है। इनको रेड जोन में रखा गया है। इनमें आगरा, गौतमबुद्ध नगर, मेरठ, लखनऊ, गाजियाबाद, सहारनपुर, शामली, फिरोजाबाद और मुरादाबाद को रखा गया है।

ऑरेंज जोन

इस लिस्ट में नॉन हॉटस्पॉट जिलों यानि ऑरेंज जोन का भी नाम है। इनमें बुलंदशहर, सीतापुर, बस्ती, बागपत, कानपुर शहर, वाराणसी, अमरोहा, बरेली, गाजीपुर, आजमगढ़, हाथरस, मुज्जफरनगर, जौनपुर, लखीमपुर खीरी, औरैया, बांदा, बदायूं, हरदोई, कौशांबी, मथुरा, मिर्जापुर, रायबरेली, पीलीभीत, बाराबंकी, बिजनौर, प्रयागराज व इटावा शामिल हैं। इस सूची में जिन जिलों के नाम नहीं हैं, वह सभी ग्रीन जोन में शामिल हैं। इसमें उत्तर प्रदेश के 31 जिले हैं।

रेड और आरेंज जोन में अंतर

रेड जोन में वह इलाके शामिल हैं, जहां कोरोना के हॉटस्पॉट हैं। आरेंज जोन में कोई भी हॉटस्पॉट एरिया नहीं है। रेड जोन को भी दो भागों में बांटा गया है। रेड जोन में कुछ ऐसे इलाके हैं, जहां कोरोना का आउटब्रेक हुआ है। इसके अलावा कुछ रेड जोन वाले जिले में कोरोना के बहुत सारे मरीज सामने आए हैं। वहां कलस्टर बन गए हैं।

ग्रीन जोन में कोरोना मुक्त जिले

जिले पूरी तरह से कोराना से मुक्त हैं और ग्रीन जोन में हैं। इनमें रेड और आरेंज जोन में कोरोना वायरस का कंटेनमेंट प्लान लागू होगा और वहां किसी तरह की आर्थिक गतिविधि की इजाजत नहीं दी जाएगी। ग्रीन जोन में शारीरिक दूरी व मास्क की अनिवार्यता के साथ आर्थिक व सामाजिक गतिविधियों की इजाजत मिलेगी। 28 दिन तक कोरोना का एक भी मरीज सामने नहीं आने के बाद आरेंज जोन ग्रीन जोन में तब्दील हो जाएगा।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!