प्रशासन ने दुद्धी ब्लॉक के झारोकला गांव को किया सील, जौनपुर क्वारन्टीन सेंटर से आए युवकों को जांच के लिए भेजा

रमेश यादव (संवाददाता)

* जौनपुर क्वारन्टीन सेंटर से दुद्धी आये युवकों की होगी कोरोना जांच, सतर्कता बढ़ी

* जौनपुर क्वारन्टीन सेंटर में पॉजिटिव केस मिलने के बाद प्रशासन ने उठाया कदम

* कोरोना जांच हेतु तीनों युवकों को प्रशासन ने जिला अस्पताल भेजा

* गांव में पुलिस प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग की टीम मौजूद

दुद्धी । ब्लाक क्षेत्र के झारोकला गांव को कोरोना संक्रमण के मद्देनजर वैरिकेट कर चारो तरफ से सील कर प्रशासन एहतियात बरतने की कार्यवाही में जुट गई है । प्रशासनिक अमले द्वारा यह कदम उठाते ही गांव सहित क्षेत्र में हड़कम्प मच गया । प्रशासन ने यह कदम जौनपुर क्वारंटिन सेंटर से लौटे 3 युवकों के कोरोना वायरस की जांच तक के लिए उठाई है।
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार गांव के तीन युवक पप्पू 22 वर्ष पुत्र रामऔतार, राहुल 18 वर्ष व राजन 16 वर्ष पुत्रगण जयमंगल निवासी ग्राम झारोकला बाहर कमाने गये थे। प्रथम चरण की लॉकडाउन घोषित होने के बाद घर लौट रहे इन तीनो युवकों को जौनपुर में रोककर 14 दिनों के लिए एक क्वारन्टीन सेंटर में रख दिया गया। क्वारन्टीन अवधि पूरी होने के बाद अभी दो तीन दिन पूर्व ये तीनों घर आये थे।गुरुवार को जौनपुर से आई खबर ने प्रशासनिक अमले में खलबली मचा दी। एसडीएम दुद्धी सुशील कुमार यादव ने बताया कि जिस क्वारन्टीन सेंटर में ये लोग रुके थे, वहां पर एक केस कोरोना पॉजिटिव मिल गया है। जिसके कारण सतर्कता की दृष्टि से गांव को सील कर युवकों की पुनः जांच कराई जायेगी। इसके लिए जिले की एक्सपर्ट टीम एवं एम्बुलेंस आ रही है। दुद्धी सीएचसी अधीक्षक डॉ मनोज कुमार एक्का ने कहा कि जौनपुर के जिस क्वारन्टीन सेंटर में ये लोग थे, वहां एक केस पॉजिटिव मिली है। इसलिए क्षेत्र में सुरक्षा को लेकर इनकी भी जांच होगी। गांव को वैरिकेट कराने में ग्राम विकास अधिकारी कमलेश भारती अपने अधीनस्थों के साथ लगे हुए थे। समाचार लिखे जाने तक मौके पर एसडीएम, सीओ, तहसीलदार, बीडीओ, एडीओ पंचायत, कोतवाल समेत कई अधिकारी पहुंच चुके है।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!