खेतिहर मजदूरों की कमी से काश्तकार परेशान

फ़ैयाज़ खान मिस्बाही (ब्यूरो)

ग़ाज़ीपुर । गाजीपुर खानपुर क्षेत्र के ग्रामीण इलाकों में लॉक डाउन की वजह से गैर प्रदेशों और रिश्तेदारों के यहां से आने वाले खेतिहर मजदूरों की कमी से काश्तकारों को दो चार होना पड़ रहा है। गेंहू की कटाई और मड़ाई कार्य में विलंब हो रहा है। गांवों में जो मजदूर उपलब्ध हैं वो भी मुंहमांगी मजदूरी मिलने पर काम करने जा रहे है। जिससे किसानों को दोहरी मार झेलनी पड़ रही है। कई किसान दशकों बाद खुद हसियां लेकर खेतों में गेंहू कटाई में उतर गए हैं। खेतों में भी शारीरिक दूरी का निर्वहन करते हुए मजदूर कटाई कार्य कर रहे है। नेवादा के नलकूप विभाग के पूर्व अधिकारी श्यामनारायन सिंह और सिधौना के पूर्व अंग्रेजी प्रोफेसर श्यामजी यादव ने बताया कि वर्षों से कटाई मड़ाई का काम छोड़ने के बाद खेतों में तैयार फसलों को बचाने के लिए खुद हसियां लेकर गेंहू, जौ काटना पड़ रहा है। सघन आबादी की वजह से छोटे-छोटे टुकड़ों में बंटे खेतों में हार्वेस्टर चलाना मुश्किल होता है। मौसम की बेरुखी और मजदूरों की समस्या को देखते हुए किसान जल्द से जल्द फसलों को खेतों से निकालकर घरों में सुरक्षित रख लेना चाहते हैं।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!