शाहजहांपुर पुलिस के जज्बे को सलाम : सिपाहियों ने खून देकर बचाई युवती की जान

राहुल शुक्ला (ब्यूरो)

लखीमपुर खीरी के मोहम्मदी निवासी युवती के भाई ने एसपी को ट्वीट कर मांगी थी मदद

शाहजहाँपुर । ब्लड की कमी की वजह से जिंदगी और मौत की लड़ाई लड़ रही एक युवती की जान दो सिपाहियों ने अपना खून देकर बचा ली। सिपाहियों के मानवता भरे इस कार्य की लोगों ने जमकर सराहना की है। लखीमपुर खीरी जनपद के मोहम्मदी कस्बे में रहने वाले राकेश कुमार श्रीवास्तव की बहन की तबीयत कुछ दिन पहले खराब हो गई जिसके बाद राकेश ने उसे शहर स्थित डॉ राकेश दीक्षित के नर्सिंग होम में एडमिट करा दिया। डॉक्टर ने युवती को देखने के बाद उसके शरीर में खून की कमी बताई थी। शरीर में खून की कमी होने पर राकेश ने ब्लड का इंतजाम करने के लिए काफी कोशिश की। लेकिन लाक डाउन चलने की वजह से उसे निराशा ही हाथ लगी। जिसके बाद राकेश ने थक हार कर शाहजहाँपुर के एसपी डा. एस चिनप्पा को ट्वीट कर अपनी व्यथा सुनाई थी। जिसे एसपी ने गंभीरता से लिया। रविवार को एसपी डा. एस चिनप्पा ने पुलिस लाइन से सिपाही विपिन कुमार व आदित्य कुमार को डा. राकेश दीक्षित के नर्सिंग होम भेजा। जहां दोनों सिपाहियों ने खून की कमी से जिंदगी और मौत की लड़ाई लड़ रही राकेश की बहन को ब्लड देकर उसकी जिंदगी बचाई। सिपाहियों के मानवता भरे इस कार्य की लोगों ने जमकर सराहना की। युवती के भाई राकेश ने भी सिपाहियों और शाहजहाँपुर पुलिस का आभार जताया।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!