निलंबित कोटेदारों के ग्राहकों को नही मिल रहा राशन

अबुलकैश “डब्बल” (ब्यूरो)
* गरीबों के सामने परेशानी बढ़ी
* सरकार की हर घर मे राशन पहुचाने की कवायद हो रही फेल
चंदौली। क्षेत्र के कुसुम्ही स्थित कोटेदार रामजी का सरकारी गल्ले की दुकान अनियमितता के कारण विगत 7 अप्रैल को पूर्ति निरीक्षक द्वारा प्राथमिकी दर्ज कराते हुए निलंबित कर दिया। जिसको लेकर जहां घटतौली और ज्यादा पैसा लेने से नाराज लोगों ने राहत की सांस तो ली, लेकिन वहीं दूसरे तरफ अब संकट उनके खाने की हो गयी है, उन्हें राशन नही मिल रहा है। क्योंकि उक्त कोटेदार के खिलाफ खाद्य और रसद विभाग द्वारा मुकदमा पंजीकृत करा दिया गया है। जिसके मुकदमा के विवेचना में साक्ष्य के लिए कोटे का पूरा राशन सील कर दिया गया है। अब ऐसे में जो गरीब अभी तक अपना राशन नही ले पाए थे उनके सामने संकट उत्पन्न हो गया है। जबकि कोरोना लॉक डाउन को लेकर सरकार राशन वितरण को लेकर गंभीर दिखाई दे रही है। लेकिन ऐसे में सरकार किसारी कवायद यहां फेल साबित हो रही है। निलंबित राशन की दुकानों के ग्राहकों के सामने परेशानी और बढ़ गयी है, क्योंकि इनके पास राशन कार्ड होते हुए भी राशन नही मिल रहा है। जबकि आज 12 अप्रैल को फिंगर लगाने की अंतिम तिथि है। वहीं गरीब ग्रामीणों का कहना है कि तीन से चार किलोमीटर राशन के लिए प्रतिदिन वह उक्त सरकारी दुकान पर चक्कर लगा रहे हैं। जहां कोई सही जवाब देने वाला नही है। इस बाबत पूर्ति निरीक्षक अमित द्विवेदी का कहना है कि राशन वितरण का समाधान निकाला जा रहा है जल्द ही लोगों को राशन दे दिया जाएगा।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!