145402 उज्ज्वला गैस उपभोक्ताओं के खातों में भेजी गयी धनराशि

फ़ैयाज़ खान मिस्बाही (ब्यूरो)

ग़ाज़ीपुर । भारत सरकार द्वारा उज्जवला गैस योजना के अंतर्गत आने वाले लाभार्थियों को लॉकडाउन के दौरान कमजोर आय वर्ग के लोगों के घरों के चूल्हे जलते रहें, इसे लेकर सरकार ने उज्ज्वला गैस कनेक्शन धारकों को तीन सिलिंडर देने का एलान किया है। जिले में 222219 लाभार्थि है, इसके लिए जिले के 145402 उपभोक्ताओं के रजिस्टर्ड बैंक खाते में 14.2 किलो के सिलिंडर के रिफिलिंग की राशि भेजी गई है। लाभार्थियों के खाते में मिली रकम से गैस सिलिंडर को बुक कराना है और डिलिवरी के वक्त यह धनराशि गैस एजेंसी संचालक को देनी है।
लेकिन लाभार्थियों की बेरुखी से शासन की मंशा को अमली जामा नहीं पहनाया जा सका है। आलम यह है कि डेढ़ लाख उपभोक्ताओं के खातों में अप्रैल की धनराशि ट्रांसफर किए जाने के बाद भी महज 10 फीसदी लाभार्थियों ने सिलिंडर की बुकिंग कराई है। शेष लाभार्थी यह मानकर बैठ गए हैं कि सिलिंडर के लिए उन्हें कोई भुगतान नहीं करना है। नियम के मुताबिक खाते में आई रकम से सिलिंडर का भुगतान लाभार्थियों को ही करना है। गैस कंपनियों के ओर से बार-बार जागरूक किए जाने के बाद भी लाभार्थी सिलिंडर बुक कराने में रुचि नहीं ले रहे हैं। जिला पूर्ति अधिकारी ने बताया कि जिन उपभोक्ताओं के खाते में सिलिंडर के रिफिलिंग की धनराशि अप्रैल में भेजी गई है, अगर वह किसी कारण से सिलिंडर की बुकिंग नहीं कराते हैं, तो उन्हें मई और जून में सिलिंडर भराने के लिए मिलने वाली धनराशि नहीं भेजी जाएगी। गैस बुक कराने के लिए लाभार्थियों को कहीं जाने की जरूरत नहीं है। वह गैस कंपनियों के आईवीआरएस नंबर के साथ गैस एजेंसी पर फोन करके भी गैस बुक करा सकते हैं।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!