कोविड-19 : पाकिस्तान में मामले बढ़कर 4,183 हुए, प्रधानमंत्री ने हालात बदतर होने का डर जताया

पाकिस्तान में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या बुधवार को बढ़कर 4,183 तक पहुंच गई। प्रधानमंत्री इमरान खान ने चिंता जताई कि हालात ‘और बिगड़ सकते हैं’ और मरीजों की संख्या बढ़ने के साथ ही ‘हमारे अस्पतालों को इसका सामना करने में दिक्कतें आ सकती हैं।

राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवाओं के मंत्रालय ने बुधवार शाम को अपने ताजा आंकड़ों में बताया कि पिछले 24 घंटे में 3,076 नमूने जांच के लिए भेजे गए जबकि अब तक कुल 42,159 नमूनों की जांच की गई है। इसके मुताबिक, पिछले चौबीस घंटे में चार मरीजों की मौत के साथ ही अब तक 58 मरीजों की मौत हो चुकी है जबकि 467 मरीज ठीक हुए हैं। 25 अन्य मरीजों की हालत नाजुक बनी हुई है।

पाकिस्तान महामारी से निपटने के लिए कड़े प्रयास कर रहा है। प्रधानमंत्री इमरान खान ने एक बार फिर जनता को पृथक वास में रहने के तहत दिए गए सरकारी दिशानिर्देशों का पालन करने की चेतावनी दी। साथ ही कहा कि ऐसा नहीं करने से वायरस का प्रसार और बढ़ जाएगा।

प्रेस को संबोधित करते हुए खान ने चेताया, ”हालात और बिगड़ सकते हैं और हमारे अस्पतालों को इसका सामना करने में दिक्कतें आ सकती हैं। हालांकि, देश में पूर्ण लॉकडाउन लागू नहीं करने के अपने फैसले का बचाव करते हुए उन्होंने कहा कि देश में पांच करोड़ से अधिक लोग गरीबी रेखा के नीचे रहते हैं और ऐसा कदम उठाने पर वे भूख से मर सकते हैं। साथ ही प्रधानमंत्री ने बताया कि सरकार गुरुवार को 1.2 करोड़ गरीब परिवारों को सीधे तौर पर कुल 144 अरब रुपये की मदद देने वाली योजना की शुरुआत करेगी।

वहीं, सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा ने अपने शीर्ष कमांडरों को निर्देश दिया है कि वे संघीय और प्रांतीय सरकारों को कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में पूरी तरह से सहायता करें।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!