देश के कई प्रदेशों में मास्क पहनना हुआ अनिवार्य, बिना मास्क के अब कोई नहीं निकल सकेगा बाहर, कार्यवाही के निर्देश

कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने बड़ा कदम उठाया है । योगी सरकार ने सूबे में सभी के लिए मास्क पहनना अनिवार्य कर दिया है । अब बिना फेस कवर किए यानी बिना मास्क पहने कोई भी घर से बाहर नहीं निकल सकेगा । अगर कोई बिना मास्क पहने पाया जाता है, तो उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी ।

उत्तर प्रदेश में तेजी से बढ़ रहे कोरोना वायरस के मामलों को देखते हुए यह कदम उठाया गया है. योगी सरकार ने एपिडेमिक डिसीज एक्ट 1897 के तहत फेस कवर करना या मास्क पहनने को जरूरी किया है। इसके अलावा दिल्ली, महाराष्ट्र और कर्नाटक में कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए सार्वजनिक जगहों पर मास्क लगाना सबके लिए जरूरी किया जा चुका है । हालांकि अभी तक यह साफ नहीं हो पाया है कि दिल्ली और कर्नाटक में मास्क नहीं पहनने को अपराध माना जाएगा या नहीं।

मुंबई में मास्क नहीं लगाने पर सजा दी जाएगी. बुधवार को बृहन्मुंबई म्युनिसिपल कॉरपोरेशन के कमिश्नर प्रवीण परदेशी द्वारा जारी आदेश में कहा गया कि सार्वजनिक स्थान पर मास्क नहीं पहनना अपराध है, जिसके लिए आईपीसी की धारा 188 के तहत सजा दी जाएगी।

कमिश्नर प्रवीण परदेशी ने यह आदेश एपिडेमिक डिसीज एक्ट 1897 के तहत जारी किया है ।।साथ ही इस आदेश का पूरी गंभीरता के साथ पालन करने को कहा है । मुंबई में मास्क नहीं पहनने पर पुलिस अधिकारी या फिर वार्ड के असिस्टेंट कमिश्नर द्वारा नियुक्त अधिकारी गिरफ्तार कर सकता है ।

दरअसल, कुछ शोधों में खुलासा हुआ है कि सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने के साथ ही मास्क पहनने से कोरोना को फैलने से रोकने में मदद मिलती है । इसके अलावा चिकित्सा विशेषज्ञों की भी यही राय है ।

इसी के चलते उत्तर प्रदेश समेत अन्य राज्यों में मास्क पहनना जरूरी किया गया है । यूपी सरकार ने कोरोना वायरस को रोकने के लिए सूबे के 15 जिलों को पूरी तरह सील करने का भी फैसला लिया है । इसके साथ ही दिल्ली के 20 इलाकों को भी पूरी तरह सील किया गया है ।

चीन के वुहान शहर से फैले कोरोना वायरस ने भारत समेत पूरी दुनिया में तबाही मचा रखी है । हिंदुस्तान में अब तक कोरोना वायरस के 5200 से ज्यादा मरीज सामने आ चुके हैं, जिनमें से 149 लोगों की मौत हो चुकी है और 410 से ज्यादा लोग ठीक भी हो चुके हैं।

उधर, दुनियाभर में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या 14 लाख 50 हजार से ज्यादा हो चुकी है, जिनमें से 83 हजार 500 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। विश्वभर में 3 लाख 8 हजार 617 कोरोना मरीज इलाज से ठीक भी हुए हैं. कोरोना वायरस के सबसे ज्यादा मामले अमेरिका में देखने को मिले हैं, जबकि सबसे ज्यादा लोगों की मौत इटली में हुई है।

कोरोना वायरस से इटली में 17 हजार 125 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि एक लाख 35 हजार 500 से ज्यादा लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं । इसके बाद कोरोना से मौत के मामले में स्पेन का नंबर है, जहां 14 हजार 500 से ज्यादा लोगों की जान गई है । इसके बाद 12 हजार 956 मौतों के साथ अमेरिका तीसरे नंबर पर और 10 हजार 328 मौतों के साथ फ्रांस चौथे नंबर पर है ।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!