कोरोना महामारी में शिक्षक जरूरतमंदों को लगातार पहुंचा रहे राहत सामग्री

रमेश यादव (संवाददाता)

दुद्धी ।जिनका कोई नहीं उनका तो ख़ुदा है यारों.. किसी फ़िल्म के मार्मिक गाने की ये पंक्तियां उस समय जीवंत हो उठती हैं जब हमारी नज़रें जाती हैं दुद्धी नगर पंचायत के मुसहर बस्ती पर।लॉकडॉउन के इस दौर में बस्ती के गरीब बाशिंदों की हालत अत्यंत दयनीय है।आजकल बस्ती की बेसहारा,बेबस और लाचार निगाहें उस समय अचानक खुशी के मारे चमक उठती हैं जब उन्हें दीदार होता है अपने मददगार सुभाष सर और उनकी टीम का।सुभाष सर और उनकी टीम उनके लिए कई बार खाने पीने व राहत सामग्री के पैकेट जैसे जीवनोपयोगी वस्तुएँ लेकर आते हैं।ये वही सुभाष सर हैं जो दुद्धी के रहने वाले एक कर्तव्यनिष्ठ शिक्षक हैं साथ ही दुद्धी में फिजिक्स व मैथ की निःशुल्क कोचिंग भी पढ़ाते हैं।इनके छोटे भाई अविनाश गुप्ता “वाह वाह” भी शिक्षक होने के साथ साथ सक्रिय रूप से सामाजिक सेवा व गतिविधियों में लगे रहते हैं।मुसहर बस्ती के लोग आज भी झुग्गी, झोपड़ी में दयनीय दशा में जीवन यापन करने को विवश हैं।इस बाबत पूर्व चेयरमैन श्री कमल कानू ने कहा कि हमारे सहयोगी सुभाष सर के नेतृत्व में निरन्तर मुसहर बस्ती व क्षेत्र के अन्य असहाय क्षेत्रों में खाद्य सामग्री पहुँचा रहे हैं। इस टीम में कृपाशंकर कानू, कुमार चंदन, अरविंद, सुमेर, संदीप, छात्रनेता कुन्दन आदि पूरे मनोयोग से राहत कार्य में लगे हुए हैं।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!