कोरोना संकट के बीच सरकारी एम्बुलेंस कर्मियों ने छोड़ा साथ, कामकाज ठप

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । कोरोना वायरस के इस मुश्किल दौर में जहां कोरोना मरीजों की संख्या में भी इजाफा हो रहा है वहीं बड़ी संख्या में बाहरी लोगों का प्रवेश जनपद में होने से उनको क्वॉरेंटाइन में रखा गया है, जिसका परीक्षण चल रहा है । ऐसे में स्वास्थ्य विभाग में अपनी अहम दायित्व निभाने वाले एम्बुलेंस कर्मी ऐन वक्त पर अपनी विभिन्न मांगों को लेकर 102/108 और एएलएस पर तैनात कर्मचारी अपने आवास पर चले गए । जिसके कारण स्वास्थ्य सेवाओं पर बड़ा असर पड़ा है। हालांकि यह काम ठप करने का एलान राज्य व्यापी है लेकिन यदि सोनभद्र की बात करें तो सरकारी एंबुलेेंस जहां थी, वहीं खड़ी कर दी गयी। जिससे प्रशासनिक अमले में हड़कंप मचा हुआ है । वहीं मुख्य चिकित्साधिकारी द्वारा दिए गए बयान कोरोना वायरस के खिलाफ हमारी तैयारी पूरी है, की भी पोल खुल गयी। सीएमओ ने यह भी कहा था कि उनकी पूरी तैयारी भविष्य को लेकर है ।

हालांकि इसका एलान एम्बुलेंसकर्मियों ने एक दिन पूर्व ही किया था कि यदि उनकी माँगों को नहीं माना गया तो वो आज दोपहर से कार्य बहिष्कार कर देंगे।
एंबुलेंस कर्मचारी संघ के जिलाध्यक्ष अश्विनी पांडेय व महामंत्री बृजेश कुमार ने कहा कि “एंबुलेंस कर्मियों का शोषण किया जा रहा है। कोरोना जैसी महामारी से निपटने के लिए कोई भी उपयुक्त संसाधन जैसे ग्लब्स, सैनिटाइजर, मास्क आदि की व्यवस्था नहीं की गई। जिससे एंबुलेंस कर्मियों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि सभी एंबुलेंस कर्मचारियों को सुरक्षा उपकरण तत्काल प्रभाव से उपलब्ध कराया जाए। एंबुलेंस कर्मचारियों का 50 लाख रुपये का बीमा कराया जाए। तीन माह की सैलरी तत्काल भुगतान किया जाए और किसी भी कर्मचारी को हटाया न जाए। कोरोना जैसी महामारी में कार्य करने पर प्रोत्साहन राशि सैलरी वृद्धि के साथ करने की माँग की। उन्होंने कहा कि अगर उनकी मांगे पूरी नहीं होती है तो मजबूर होकर वे अपना कार्य बहिष्कार आगे भी जारी रखेंगे।

“बहरहाल इस मुश्किल घड़ी में जब पूरा देश एक दूसरे की मदद से इस महामारी से निकलने की कोशिशें कर रहा है, ऐसे में एम्बुलेंस कर्मियों को अपनी जिंदगी की सुरक्षा के मद्देनजर किट मांगना उचित जरूर है लेकिन कार्य बहिष्कार कर इस मुश्किल घड़ी में साथ छोड़ कर चले जाना भी कहीं से उचित नहीं है ।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!