जुमा की नमाज़ के लिये मस्जिद में इकठ्ठे न हों, घर पर पढें ज़ोहर की नमाज़

फ़ैयाज़ खान (संवाददाता)

ग़ाज़ीपुर । तनवीर रज़ा सेक्रेटरी शाही जामा मस्जिद ज़मानिया ने कहा कि जुमा की नमाज के लिए मस्जिदों में इकट्ठा ना हो बल्कि अपने घर पर नमाज ए जोहर अदा कर ले कोरोना वायरस जैसी महामारी में हमें एहतियात के तौर पर घर से निकलने के लिए मना किया जा रहा है ऐसी सूरत में हमें शासन प्रशासन का साथ दे कर एक अच्छे नागरिक की जिम्मेदारी अदा करनी है ताकि हम कोरोना से अपने परिवार और अपने देश को बचा सकें घर पर रहे अल्लाह का जिक्र करें नमाजे पढ़ें तिलावते करें और अल्लाह से दुआ करें इस बीमारी से हमारे हिंदुस्तान को और दिगर मुल्क के लोगों को महफूज रखें आमीन आप सभी से गुजारिश है कि मस्जिद में इकट्ठा होने से बचें घर पर नमाज अदा कर ले।खजूरी के इमाम कारी एहतेशाम ने कहा कि इस वक़्त पूरी दुनिया मे जो बीमारी फैली है उसको मद्देनजर रखते हुवे मज़हबी और मिल्ली दोनो फ़रीज़ा है कि हम इस वक़्त जुमे की नामज़ मस्जिद में न अदा कर के ज़ोहर की नमाज़ को घर पर ही अदा करे।देवैथा के इमाम मौलाना हैदर ने कहा कि हम हर तरह से इस परेशानी के वक़्त में अपने मुल्क के तमाम लोगों के साथ खड़े हैं और उन्होंने ने भी एलान किया कि जुमा की नमाज़ के लिए मस्जिद में जमा न हों।पारा ग़ाज़ीपुर के शाही इमाम मौलाना अनवारूल क़ादरी ने लोगों से अपील किया कि घर पर ही ज़ोहर की नमाज़ पढें।मुफ़्ती रियासुद्दीन ग़ाज़ीपुर ने लोगों से अपील की है कि मुल्क की बेहतरी के लिए घर पर ही ज़ोहर की नमाज़ अदा करें।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!