भारत का राहत पैकेज दुनिया के बाकि देशों से काफी अलग, पढ़ें क्या है अंतर

कोरोना वायरस ने दुनिया के कई देशों को अपनी चपेट में ले रखा है। इससे निपटने के लिए दुनिया के कई देशों ने राहत पैकेज का ऐलान भी किया है । वहीं भारत में भी कोरोना वायरस का संकट बढ़ता जा रहा है । इस बीच सरकार ने गरीबों के लिए 1.70 लाख करोड़ रुपये के राहत पैकेज का ऐलान किया है । हालांकि भारत का राहत पैकेज दुनिया के बाकि देशों से काफी अलग है ।

डॉलर में देखा जाए तो भारत का पैकेज 22.5 अरब डॉलर का है, जो कि प्रति व्यक्ति करीब 19 डॉलर बैठता है । वहीं विकसित देशों के मुकाबले भारत का पैकेज काफी कम है । जर्मनी में 610 अरब डॉलर का पैकेज दिया गया है, जो कि प्रति व्यक्ति 7281 डॉलर की मदद है । वहीं ब्रिटेन में 424 अरब डॉलर का पैकेज दिया गया है, जो कि 6246 डॉलर बैठता है ।

अमेरिका ने 2 खरब डॉलर के राहत पैकेज का ऐलान किया. जो कि प्रति व्यक्ति 6042 डॉलर होता है । इसके अलावा फ्रांस ने 335 अरब डॉलर का ऐलान किया, जो प्रति व्यक्ति के हिसाब से 5132 डॉलर बैठता है । वहीं स्पेन ने 218 अरब डॉलर के पैकेज का ऐलान किया, जो कि प्रति व्यक्ति 4668 डॉलर बैठता है । ऐसे में भारत के प्रति व्यक्ति 19 डॉलर और बाकि विकसित देशों के प्रति व्यक्ति पैकेज में फर्क साफ दिखाई देता है ।

देश में कोरोना के कितने मामले?

बता दें कि भारत में लगातार कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों का आंकड़ा बढ़ता ही जा रहा है । अब तक भारत में 690 से ज्यादा कोरोना वायरस के मरीज सामने आ चुके हैं । वहीं 16 मरीजों की मौत भी हो चुकी है। कोरोना के संकट को देखते हुए देश में 21 दिनों का लॉकडाउन लागू किया गया है।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!