जैसे ही प्रधानमंत्री मोदी ने कहा- भाइयों व बहनों आज रात 12 बजे….लोगों की बढ़ने लगी धड़कनें

जब-जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को संबोधित करने के लिए रात 8 बजे के वक्त को चुना है, देशवासियों की धड़कनें बढ़ जाती हैं । पिछले करीब 6 साल में पीएम मोदी कई बार देश को रात 8 बजे संबोधित कर चुके हैं और हर बार आम आदमी से जुड़े बड़े फैसले लिए गए हैं ।

दरअसल, मंगलवार की रात 8 बजे एक बार फिर पीएम मोदी देश के सामने आए, उन्होंने अगले 21 दिन के लिए लॉकडाउन यानी एक तरह से ‘देशबंदी’ की घोषणा कर दी. पीएम मोदी के इस ऐलान ने नोटबंदी की यादें ताजा कर दीं ।

आज से ठीक 3 साल और 4 महीने पहले 16 नवंबर 2016 को रात 8 बजे नरेंद्र मोदी ने देश को संबोधित करते हुए नोटबंदी का ऐलान किया था. उस वक्त किसी को इसकी भनक नहीं थी कि पीएम मोदी देश को संबोधित करते हुए उसी दिन रात 12 बजे से 500 और 1000 रुपये के नोट को अमान्य घोषित कर देंगे.

हालांकि आज लॉकडाउन का फैसला जरूरी है, देशभर में कोरोना वायरस तेजी से घर में घुसने की कोशिश कर रहा है और उसे रोकने के लिए सोशल डिस्टेंस एकमात्र उपाय है, इसलिए देश को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने मंगलवार की रात 12 बजे से अगले 21 दिनों तक पूरे भारत में लॉकडाउन की घोषणा कर दी.

लॉकडाउन की घोषणा के बाद देश के कुछ हिस्सों में नोटबंदी जैसा माहौल देखने को मिल रहा है. जरूरत की चीजें खरीदने के लिए दुकानों के बाहर भीड़ उमड़ पड़ी. जैसा कि नोटबंदी के बाद ATM के बाहर कैश निकालने के लिए लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी थी ।

इस बीच पीएम मोदी ने लोगों से अपील की है कि कोरोना वायरस से जंग जीतने के लिए अगले 21 दिनों तक घरों से बाहर न निकलें । उन्होंने कहा कि देशवासियों को घबराने की
जब-जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को संबोधित करने के लिए रात 8 बजे के वक्त को चुना है, देशवासियों की धड़कनें बढ़ जाती हैं । पिछले करीब 6 साल में पीएम मोदी कई बार देश को रात 8 बजे संबोधित कर चुके हैं और हर बार आम आदमी से जुड़े बड़े फैसले लिए गए हैं ।

दरअसल, मंगलवार की रात 8 बजे एक बार फिर पीएम मोदी देश के सामने आए, उन्होंने अगले 21 दिन के लिए लॉकडाउन यानी एक तरह से ‘देशबंदी’ की घोषणा कर दी. पीएम मोदी के इस ऐलान ने नोटबंदी की यादें ताजा कर दीं.

आज से ठीक 3 साल और 4 महीने पहले 16 नवंबर 2016 को रात 8 बजे नरेंद्र मोदी ने देश को संबोधित करते हुए नोटबंदी का ऐलान किया था. उस वक्त किसी को इसकी भनक नहीं थी कि पीएम मोदी देश को संबोधित करते हुए उसी दिन रात 12 बजे से 500 और 1000 रुपये के नोट को अमान्य घोषित कर देंगे.

हालांकि आज लॉकडाउन का फैसला जरूरी है, देशभर में कोरोना वायरस तेजी से घर में घुसने की कोशिश कर रहा है और उसे रोकने के लिए सोशल डिस्टेंस एकमात्र उपाय है, इसलिए देश को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने मंगलवार की रात 12 बजे से अगले 21 दिनों तक पूरे भारत में लॉकडाउन की घोषणा कर दी.

लॉकडाउन की घोषणा के बाद देश के कुछ हिस्सों में नोटबंदी जैसा माहौल देखने को मिल रहा है. जरूरत की चीजें खरीदने के लिए दुकानों के बाहर भीड़ उमड़ पड़ी. जैसा कि नोटबंदी के बाद ATM के बाहर कैश निकालने के लिए लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी थी.

इस बीच पीएम मोदी ने लोगों से अपील की है कि कोरोना वायरस से जंग जीतने के लिए अगले 21 दिनों तक घरों से बाहर न निकलें. उन्होंने कहा कि देशवासियों को घबराने की बिल्कुल जरूरत नहीं है. देशव्यापी लॉकडाउन के दौरान भी जरूरी सेवाएं और दवाएं मिलती रहेंगी ।।।

पीएम मोदी ने कहा कि भारत आज उस स्टेज पर है, जहां हमारे आज के एक्शन तय करेंगे कि इस बड़ी आपदा के प्रभाव को हम कितना कम कर सकते हैं. उन्होंने मंगलवार की रात 12 बजे से अगले 21 दिन तक देशभर में लॉकडाउन की घोषणा की.
नोटबंदी के 3 साल, 4 महीने बाद फिर बजे 8 और हो गई ‘देशबंदी’8/8

पीएम ने अपने संबोधन में बताया कि कैसे दुनिया में कोरोना वायरस के मामले तेजी से बढ़े हैं. पहले एक लाख लोग संक्रमित होने में 67 दिन लगे और फिर इसे 2 लाख लोगों तक पहुंचने में सिर्फ 11 दिन लगे. जबकि दो लाख संक्रमित लोगों से 3 लाख लोगों तक ये बीमारी पहुंचने में सिर्फ 3 दिन लगे.

जरूरत नहीं है. देशव्यापी लॉकडाउन के दौरान भी जरूरी सेवाएं और दवाएं मिलती रहेंगी ।

पीएम मोदी ने कहा कि भारत आज उस स्टेज पर है, जहां हमारे आज के एक्शन तय करेंगे कि इस बड़ी आपदा के प्रभाव को हम कितना कम कर सकते हैं ।उन्होंने मंगलवार की रात 12 बजे से अगले 21 दिन तक देशभर में लॉकडाउन की घोषणा की।

पीएम ने अपने संबोधन में बताया कि कैसे दुनिया में कोरोना वायरस के मामले तेजी से बढ़े हैं । पहले एक लाख लोग संक्रमित होने में 67 दिन लगे और फिर इसे 2 लाख लोगों तक पहुंचने में सिर्फ 11 दिन लगे. जबकि दो लाख संक्रमित लोगों से 3 लाख लोगों तक ये बीमारी पहुंचने में सिर्फ 3 दिन लगे ।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *