मऊ से पैदल पहुंचा गाजीपुर फिर हमीद सेतु से लगा दी गंगा में छलांग

फ़ैयाज़ खान (संवाददाता)

ग़ाज़ीपुर । गाजीपुर करीब 40 किमी की दूरी पैदल तय कर आज एक 35 वर्षीय युवक मे गंगा नदी में छलांग लगा दी। जिसके बाद वह पानी के तेज बहाव चलते थाना क्षेत्र के सुजानपुर गांव के सामने आकर बीच गंगा में धारा को मोडने के लिए लगाए गये बांस के चाचर में फंस गया, सुबह जब क्षेत्रीय लोग गंगा स्नान करने के लिए घाट पर पहुंचे तो देखा कि एक युवक अपनी जान बचाने की गुहार लगा रहा है। लोगों के सहयोग से किसी तरह उसे बाहर निकाला गया।

पूछताछ में उसकी पहचान बृजेश सिंह पुत्र लल्लन सिंह निवासी कोपागंज मऊ बताया। बताया जा रहा है कि युवक एम ए पास होकर नौकरी न मिलने पर गाँव के इंटर के छात्रों को जीविका चलाने के लिए ट्यूशन पढाता है, लेकिन परिजन आए दिन उसे पढाई-लिखाई के बाद भी नौकरी न मिलने पर उसे हर रोज उलाहना देने के साथ ही मानसिक रूप से प्रताडित करते रहे, जिससे क्षुब्ध होकर उसने आत्महत्या करने के लिए अपने घर कोपागंज मऊ से भोर में करीब दो बजे शौच करने की बात कह घर से निकल गया। पास में पैसे न रहने पर वह पैदल ही वहाँ से निकल गाजीपुर आ गंगा में सेतु से छलांग लगा दी। संजोग अच्छा रहा कि लोगों ने उसे समय रहते बचा लिया।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!