अधिक बाल झड़ने को चिकित्सकीय भाषा में कहते हैं एलोपेसिया, अपनाएं ये घरेलू उपचार

महिला हों या पुरुष रोजाना कुछ बालों का झड़ना आम है, लेकिन अगर बाल सामान्य से ज्यादा झड़ रहे हो तो यह स्थिति चिंताजनक है। सामान्य से अधिक बाल झड़ने को चिकित्सकीय भाषा में एलोपेसिया कहते हैं। इस स्थिति में जब बालों का झड़ना जारी रहता है तो त्वचा पर गोल आकार के पैचेस होने लगते हैं तो यह एलोपेसिया एरीटा कहलाता है। www.myupchar.com के एम्स से जुड़े डॉ. केएम नाधीर का कहना है कि एलोपेसिया को ऑटोइम्यून डिसीज के अंदर रखा गया है यानी शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली बालों पर हमला करती है और बाल झड़ना शुरू हो जाते हैं। यह समस्या आनुवंशिक स्थिति की वजह से होती है। जिन लोगों के बाल पूरी तरह झड़ जाते हैं वह एलोपेसिया टोटलिस लेकिन जिन लोगों के शरीर के बाल भी झड़ने लगते हैं उसे एलोपेसिया यूनिवर्सलिस कहते हैं।

आमतौर पर एलोपीशिया के कुछ मामले सही आहार और घरेलू उपचार के साथ कुछ महीनों में अपने आप ही ठीक हो जाते हैं। लेकिन कई लोगों के बाल सालों तक झड़ते और उगते रहते हैं। लेकिन अत्यधिक तीव्र बाल झड़ने की स्थिति में बालों के फिर से विकसित होने के अवसर कम होते हैं।

एलोपेसिया से ग्रसित व्यक्ति को मांस, एसिड युक्त आहार और अन्य पदार्थ जो सूजन पैदा करते हैं, दूध और डेयरी उत्पाद, मीठा और शक्कर की बनी चीजें, रिफाइंड आहार जैसे बेकरी के उत्पाद, तले हुए और चिकने पदार्थ से परहेज करना चाहिए। एलोपेसिया के मामले में कुछ घरेलू उपचार अपना सकते हैं, जिससे फायदा होने की पूरी संभावना हैं।

लैवेंडर:
अध्ययनों से पता चला है कि लैवेंडर को जब शुरुआती गंजेपन की स्थिति में स्कैल्प पर रगड़ दिया जाता है, तो एलोपेसिया एरीटा के प्रभावों को धीमा या यहां तक कि उलट सकता है। यह एसेंशियल ऑइल इतना प्रभावशाली है कि इसे अप्लाई करने से पहले बादाम या नारियल तेल के साथ मिलाना जरूरी है। अन्य एसेंशियल ऑइल जैसे पेपरमिंट, रोजमेरी ऑइल भी स्कैल्प के ब्लड फ्लो बढ़ाने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है, जिससे बालों के रोम फिर से बढ़ने लगते हैं।

विटामिन सी:
एलोपेसिया एरीटा के प्रभाव को कम करने के असरदार तरीकों में से एक है जितना संभव हो उतना विटामिन सी खाएं, जो कि खट्टे फल और हरी पत्तेदार सब्जियों में पाया जाता है।

प्याज:
प्याज के रस सहित कई घरेलू उपचार हैं, जिन्हें सीधे स्कैल्प पर लगाया जा सकता है। सल्फर की अधिकता सर्कुलेशन और नए ग्रोथ को प्रोत्साहित करने में मदद करती है, जबकि प्याज की एंटीसेप्टिक गुणवत्ता स्कल्प जनित संक्रमण या रोगाणुओं को मारती है जो बालों के झड़ने का कारण बनते हैं। इसके अलावा, प्याज के छिलके को अक्सर स्कैल्प के क्षेत्र पर रगड़ दिया जाता है जहां बाल झड़ रहे हैं।

नारियल का दूध:
स्कैल्प पर बेसन के साथ नारियल का दूध मिलाकर लगाने से खोए हुए बालों की तुरंत रिकवरी हो सकती है। यह पेस्ट जल्दी से हेयर फॉलिकल को उत्तेजित करता है और स्कैल्प को सुधारता है।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!