महिला बच्चों संग गंगा में कूदी, मछुवारों ने बचाया

तनवीर (संवाददाता)

जमानिया । गाजीपुर जमानियां पारिवारिक कलह से ऊबकर मंगलवार की दोपहर में कोतवाली क्षेत्र के मतसा गांव निवासी सरिता यादव ने पुत्री परी (3) और पुत्र अविनाश (5) के संग करंडा थाना क्षेत्र के करकरटपुर गांव के पास गंगा में कूदकर आत्महत्या की कोशिश की। मछली मार रहे मछुवारों ने कड़ी मशक्कत के बाद मां-बच्चों को बचाया। मछुवारे दैत्रवीर घाट पर लेकर नांव से पहुंचे। स्वास्थ्य केंद्र में प्राथमिक उपचार के बाद सभी घर गए।

क्षेत्र के मतसा गांव निवासी सरिता देवी (25) दोपहर बाद मतसा गांव से पुत्र व पुत्री को लेकर पक्का पुल से करंडा थाना क्षेत्र के करकटपुर गांव गंगा नदी के किनारे पहुंची। वहां बच्चों को लेकर गंगा नदी में कूद गई। यह देख मछली मारे रहे मच्छुआरा रामवृझ चौधरी और संजय चौधरी हक्के-बक्के रह गए। दोनों तुरंत नदी में कूदकर सबको सकुशल बाहर निकाले। इतना ही नहीं उन्हें जमानियां कस्बा स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाए। जहां उनका उपचार शुरू किया गया। घटना की जानकारी मिलते ही पति हरिहर यादव अस्पताल पहुंचा और बच्चों से लिपट कर रोने लगा। सरिता ने पारिवारिक कलह की बात कही जबकि, पति ने बताया कि पत्नी ने ऐसा कदम क्यों उठाया यह समझ में नहीं आ रहा है। दोपहर बाद पत्नी बच्चों को लेकर बिना बताये घर से निकल गयी खोजबीन की जा रही थी। उपचार के बाद हालत में सुधार होने के बाद हरिहर अपने पत्नी सरिता और दोनों बच्चों को घर लेकर चले गए। डा. रुद्रकांत सिंह ने बताया कि बच्चों का उपचार कर परिजनों को घर भेज दिया गया।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!