कोरोना को लेकर भारत की देश से लेकर विदेश तक पहल जारी, विदेश से भारतीयों को वतन वापस लाने का कार्य जारी

भारत के अंदर कोरोना वायरस से लड़ाई के बीच विदेश में फंसे नागरिकों को भी निकाला जा रहा है । चीन के बाद इटली और ईरान में कोरोना ने कहर बरपाया है, लिहाजा वहां फंसे भारतीयों को स्वदेश वापस लाने का काम किया जा रहा है । इस कड़ी में इटली और ईरान से 400 से ज्यादा लोगों को विशेष विमानों द्वारा भारत लाया गया है ।

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने रविवार को कहा कि कोरोनो वायरस प्रभावित ईरान में फंसे 234 भारतीय स्वदेश पहुंच गए हैं। स्वदेश पहुंचे इस बैच में 131 छात्र और 103 तीर्थयात्री शामिल हैं। विदेश मंत्री ने कहा, ईरान में फंसे 234 भारतीयों को वापस लाया गया है जिनमें छात्र और तीर्थयात्री शामिल हैं।

‘मिशन एयरलिफ्ट’ पूरा होने के बाद ईरान से लौटे भारतीयों को लेकर विदेश मंत्री, एस जयशंकर ने कहा ईरान में तेहरान और शिराज से आए 53 भारतीयों जिसमें 52 छात्रों और एक शिक्षक शामिल हैं, उनका चौथा जत्था पहुंच गया । इसके साथ ही कुल 389 भारतीय ईरान से भारत लौट आए हैं । ईरान और भारत में ईरान के दूतावास के अधिकारियों का शुक्रिया।

बतादें कि उत्तराखंड में कोरोना वायरस (CoronaVirus ) का पहला मामला दर्ज किये जाने और महाराष्ट्र एवं उत्तर प्रदेश में एक-एक मामले की पुष्टि होने के साथ भारत में इस विषाणु से संक्रमित मरीजों की संख्या सोमवार को बढ़ कर 111 हो गई । केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने यह जानकारी दी । कुल संख्या में कोरोना वायरस से संक्रमित हुए वे दो मरीज भी शामिल हैं, जिनकी दिल्ली और कर्नाटक में मौत हो चुकी है । हाल ही में सऊदी अरब से लौटे कर्नाटक के कलबुर्गी निवासी 76 वर्षीय व्यक्ति की बृहस्पतिवार को मौत हो गई थी. इसके अलावा दिल्ली में रहने वाली 68 वर्षीय एक महिला कोरोना वायरस से संक्रमित पाई गई थी, जिसकी शुक्रवार रात राम मनोहर लोहिया अस्पताल में मौत हो गई । उत्तराखंड में रविवार को कोरोना वायरस संक्रमण के पहले मामले की पुष्टि हुई ।

दिल्ली में कोरोना वायरस के अब तक सात मामले सामने आ चुके हैं । वहीं उत्तर प्रदेश में 12, कर्नाटक में छह, महाराष्ट्र में 33, लद्दाख में तीन और जम्मू-कश्मीर में दो लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हैं । इसके अलावा तेलंगाना में तीन और राजस्थान में दो मामले सामने आए हैं. तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश और पंजाब में कोरोना वायरस से संक्रमण के एक-एक मामले दर्ज किये गये हैं । केरल में कोरोना वायरस के सबसे अधिक 22 मामले सामने आए हैं । इनमें वे तीन लोग भी शामिल हैं, जिन्हें पिछले महीने इलाज के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई थी । मंत्रालय के अधिकारियों ने बताया कि कुल 110 संक्रमित लोगों में 17 विदेशी हैं । इनमें 16 इतालवी हैं । मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, केरल के तीन मरीजों सहित इलाज के बाद अब तक 13 लोगों को छुट्टी दे दी गई है।

इटली में कोरोना वायरस की वजह से 24 घंटो में 368 लोगों की मौत हो गई है। ये अब तक सबसे कम समय में लोगों की मौत का सबसे बड़ा आंकड़ा है, जिसके बाद इटली में मेरने वालों की तादाद बढ़कर 1809 हो गई है। वहीं कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या अब 20 हजार 603 हो गई है। साथ ही 2 हजार 853 लोग एक दिन में पॉजिटिव पाए गए। लगातार बढ़ते संक्रमण को देखते हुए ईरान और इटली से 452 भारतीयों को निकाल लिया गया है, जिन्हें रविवार को दो विशेष विमान से सुबह मुंबई और दिल्ली लाया गया और 14 दिन के लिए क्वारैंटाइन में रखा गया है।

भारत में भी कोरोना का कहर साफ दिख रहा है। महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमण के 6 नए मामले सामने आए हैं, जिसके बाद कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 33 हो गई है। रूस और कजाखस्तान से लौटी 59 साल की महिला की रिपोर्ट पॉजिटिव मिली है, जिसके बाद प्रशासन ने बगैर अनुमित के सामूहिक यात्रा पर रोक लगा दी है। साथ ही अगले आदेश तक मुबंई जू (ZOO) को बंद कर दिया है। वहीं शिरडी में श्री साईबाबा संस्थान ट्रस्ट ने अगले कुछ दिनों तक श्रद्धालुओं से मंदिर न आने की अपील की। फिलहाल देश में सबसे ज्यादा कोरोना संक्रमित लोग महाराष्ट्र में ही हैं।

कोरोना के कहर को देखते हुए कर्नाटक को एक सप्ताह के लिए बंद कर दिया है। गुजरात में सार्वजनिक जगहों पर थूकने पर 500 रुपय का जुर्माना देना होगा। उधर वैष्णो देवी में विदेशी श्रद्धालुओँ के आने पर रोक लगा दी गई है। एतियात के तौर पर लखनऊ, गाजियाबद, नोएडा में मॉल, सिनेमाहाल स्विमिंग पूल, जिम और क्लब को 31 मार्च तक बंद कर दिया गया है। यूपी में नेपाल सीमा से सटे 7 जिलों में विशेष सतर्कता बरती जा रही है। देश में रविवार को कोरोना संक्रमण के 11 नए मामले सामने आए। इनमें से केरल में तीन और महाराष्ट्र में 6 और तेलंगाना में एक संक्रमण की पुष्टि हुई, जिसके बाद कोरोना संक्रमित लोगों संख्या बढ़कर 110 हो गई है।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *