दुधवा टाइगर रिजर्व के दक्षिण सोनारीपुर में मादा गैंडे का शव मिलने से हड़कम्प

उमेश कुमार शर्मा (ब्यूरो)

लखीमपुर खीरी । दुधवा टाइगर रिजर्व के दक्षिण सोनारीपुर में दो माह के मादा गैंडे का शव मिलने से पार्क प्रशासन में हड़कम्प मच गया। आनन-फानन में पार्क अधिकारी मौके पर जा पहुंचे और शव को कब्जे में लिया। मादा गैंडे की टाइगर के हमले में होने की आशंका जताई जा रही है क्यों कि उसके शरीर पर कई स्थानों पर पंजों के निशान पार्क प्रशासन को मिले हैं। पार्क प्रशासन शव को कब्जे में लेते हुए पोस्टमार्टम की तैयारियों में जुट गया है।

दुधवा टाइगर रिजर्व में दुर्लभ वन्यजीवों की मौत का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। शनिवार की सुबह पार्क अधिकारियों को सूचना मिली कि दक्षिण सोनारीपुर के ककरहा क्षेत्र के पास दो साल की मादा गैंडे का शव पड़ा हुआ है। सूचना मिलते ही दुधवा टाइगर रिजर्व के डीडी मनोज सोनकर, वार्डन एसके अमरेश वन टीम के साथ मौके पर जा पहुंचे। पार्क अधिकारियों के मुताबिक मरने वाले गैंडे की उम्र दो साल की है।
गैंडे की मौत से दुधवा पार्क अधिकारी सकते में आ गए हैं। आशंका जताई जा रही है कि गैंडे की मौत बाघ के हमले में हुई है। दुधवा नेशनल पार्क के उपनिदेशक मनोज सोनकर ने मादा गैंडे की मौत की पुष्टि की है। साथ ही कहा है कि गैंडे का पोस्टमार्टम दुधवा मुख्यालय पर होगा, जिससे उसकी मौत की असली वजह सामने आ सकेगी। बता दें कि कुछ दिनों पूर्व ही दुधवा में एक छह साल के नर गैंडे की भी आपसी संघर्ष में मौत हो गई ।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!