साइकिल से 24 देशों के भ्रमण पर निकली विदेशी युवती पहुंची कोन, लोगों ने किया जोरदार स्वागत

पी0के0 विश्वकर्मा (संवाददाता)

० देश के लोगों में प्यार बाटने निकली हूँ- हन्नाह कर्न

कोन । जहां आज पूरा देश अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस मना रहा है और महिलाओं की सशक्तिकरण की गाथा बता रहा है । वहीं सोनभद्र के कोन में विदेशी महिलाओं का दल शनिवार शाम कोन में रात्रि विश्राम कर आज सुकृत होते हुए वाराणसी के लिए निकली ।

पच्चीस वर्षीया इंग्लैंड की रहने वाली हन्नाह कर्न इन दिनों हिंदुस्तान के दौरे पर हैं । दुनिया के महिलाओं के साथ प्यार बांटने निकली हन्नाह कर्न 24 देशों के भ्रमण पर निकली हैं । हन्नाह कर्न शनिवार की सांय साइकिल यात्रा करते सोनभद्र के कोन पहुंची। जहां वे रात्रि में भाजपा के पूर्व मंडल अध्यक्ष शशांक शेखर मिश्रा के यहां विश्राम की । रविवार सुबह हन्नाह कर्न सुकृत होते हुए वाराणसी के लिए निकलते समय हुई मुलाकात में हन्नाह कर्न ने बताया कि वह पिछले एक वर्ष मे साइकिल यात्रा करते हुये थाईलैंड, म्यामांर, बाग्लादेश, के बाद इण्डिया पहुंची हैं । हन्नाह कर्न ने आगे के प्लान के बारे में बताया कि वह सोमवार को वाराणसी होते हुए नेपाल इसके बाद पाकिस्तान, चीन, काजिस्तान, ताजिकिस्तान, अजबोकिस्तान, बुल्गारिया, रमैनिया, आस्ट्रेलिया, न्युजीलैंड, आदि 24 देशों के भ्रमण करते इंग्लैंड वापस पहुंचेगी ।

हालांकि हन्नाह का बोलचाल अंग्रेजी होने के कारण क्षेत्रवासियों के समझ से परे था। क्षेत्र में अंग्रेजी के जानकार लोग कुछ समझ कर लोगों को उनके उद्देश्य व उनके बातों को बताया । हन्नाह ने बताया कि उसके पिता कलकत्ता में बिजनेस कर चुके हैं । उंसने बताया कि मै दुनिया के लोगों के साथ प्यार बांटने साइकिल यात्रा पर निकली हूँ। पूछने पर बताया कि भारत के लोगों का व्यवहार व विचारधारा अच्छा है । उंसने बताया कि उसे भ्रमण में बहुत अच्छी लग रही है। भ्रमण से बहुत जानकारी भी मिल रही है। उंसने बताया कि भ्रमण उसकी हॉबी है। उन्होंने अपने दिनचर्या के बारे में बताते हुए कहा कि प्रतिदिन 70-80 किमी साइकिल चलाते हैं । शनिवार को सुबह गढवा झारखंड से चलकर नगर, विण्डमगंज होते सांय कोन पहुंची थी और रात्रि विश्राम खेमपुर में करने के बाद आज सुबह 9 बजे निकली आगे अपने गंतव्य के लिए निकली । उंसने बताया कि आज शाम वह सुकृत में विश्राम करेगा । महिला दिवस पर साक्षात अकेली विदेशी महिला के जज्बा को देखने के लिए लोगों की भारी भीड़ लगी हुई थी ।

पूर्व मंडल अध्यक्ष शशांक मिश्रा ने बताया कि देर शाम कोन पहुंचने पर रात्रि विश्राम क्षेत्र में ही किया था । उन्होंने बताया कि ये पूर्णतः शाकाहारी है । लेकिन दूध से बना भी किसी व्यंजन नही खायी । उन्होंने बताया कि बेहद मिलनसार दिखी । भाषा की दिक्कत होने के वावजूद घर की महिलाओं के साथ मिलजुल कर काफी इंज्वाय किया । राजनीति या प्रधानमंत्री मोदी जी के बारे में पूछने पर कहा कि उसे पालिटिक्स में कोई रुचि नही है । मै केवल दुनिया के लोगों के साथ प्यार बांटने निकली हूँ ।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!