ICC महिला टी-20 वर्ल्ड कप : ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 85 रनों से हराकर खिताब पर किया कब्जा

ICC महिला टी-20 वर्ल्ड कप के फाइनल मैच में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 85 रनों से हरा दिया और पांचवीं बार वर्ल्ड कप की ट्रॉफी अपने नाम कर ली । टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी ऑस्ट्रेलिया ने 20 ओवर में 4 विकेट गंवा कर 184 रन बनाए और भारत के सामने वर्ल्ड कप जीत के लिए 185 रनों का टारगेट रखा । जवाब में भारतीय महिला टीम 19.1 ओवर में 99 रनों पर ढेर हो गईं । ऑस्ट्रेलिया ने रिकॉर्ड पांचवीं बार यह खिताब अपने नाम कर लिया है ।

इसके अलावा उसने इस बार अपने खिताब का बचाव भी किया है । मेजबान टीम छठी बार फाइनल में पहुंची थी जबकि भारतीय टीम पहली बार फाइनल खेल रही थी । भारत की ओर से दीप्ति शर्मा ने सर्वाधिक 33 रन बनाए. उनके अलावा वेदा कृष्णामूर्ति ने 19 और ऋचा घोष ने 18 जबकि स्मृति मंधाना ने 11 रन बनाए । ऑस्ट्रेलिया की ओर से मेगान स्कट ने चार और जेस जोनासन ने तीन जबकि सोफी मोलिन्यूक्स, डेलिसा किमिंस और निकोला कैरी ने एक-एक विकेट लिया ।

ऑस्ट्रेलिया से मिले 185 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम की शुरुआत काफी खराब रही और टीम नियमित अंतराल पर विकेट गंवाती चली गई। भारत की ओर से दीप्ति शर्मा ने सर्वाधिक 33 रन बनाए।उन्होंने 35 गेंदों पर दो चौके लगाए। उनके अलावा वेदा कृष्णामूर्ति ने 19, ऋचा घोष ने 18, स्मृति मंधाना ने 11 और कप्तान हरमनप्रीत कौर ने चार रनों का योगदान दिया । ऑस्ट्रेलिया की ओर से मेगान स्कट ने चार और जेस जोनासन ने तीन जबकि सोफी मोलिन्यूक्स, डेलिसा किमिंस और निकोला कैरी ने एक-एक विकेट लिया. इससे पहले, ऑस्ट्रेलिया ने क तूफानी शुरुआत करते हुए 20 ओवर में चार विकेट पर 184 रन का स्कोर का मजबूत स्कोर बनाया ।

ऑस्ट्रेलिया ने मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड पर फाइनल में भारत के सामने खिताबी जीत के लिए 185 रनों का विशाल लक्ष्य रखा।ऑस्ट्रेलिया के लिए बेथ मूनी ने सबसे ज्यादा 78 रन बनाए जबकि एलिसा हिली ने 39 गेंदों पर 75 रन बनाए । भारत के लिए दीप्ति शर्मा ने 4 ओवर में 38 रन देकर 2 विकेट लिये । करीब 80,000 दर्शकों की मौजूदगी में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी ऑस्ट्रेलियाई टीम ने तूफानी शुरुआत करते हुए 20 ओवर में चार विकेट पर 184 रनों का स्कोर बनाया ।

ऑस्ट्रेलियाई टीम को उसके दोनों ओपनरों बेथ मूनी (नाबाद 78) और एलिसा हिली (75) ने पहले विकेट के लिए 11.4 ओवर में 115 रनों की साझेदारी कर तूफानी शुरुआत दी । विशाल होती जा रही इस साझेदारी को राधा यादव ने हिली को सीमा रेखा पर वेदा कृष्णामूर्ति के हाथों कैच कराकर तोड़ा । हिली ने 39 गेंदों पर सात चौके और पांच छक्कों की मदद से अपने करियर का 12वां अर्धशतक लगाया ।

हिली के आउट होने के बाद मूनी ने अपने करियर का नौवां अर्धशतक पूरा किया और उन्होंने कप्तान मेन लेनिंग (16) और मूनी ने दूसरे विकेट के लिए 39 रन जोड़े । लेनिंग के आउट होने के बाद ही एश्ले गार्डनर (2) की आउट हो गईं । दोनों बल्लेबाज दीप्ति शर्मा की ओवर में आउट हुईं । दीप्ति ने अपने चौथे औवर में लेनिंग और गार्डनर को आउट करके भारत को मैच में वापस लाने की कोशिश की ।

मूनी ने हालांकि एक छोर संभाले रखा और अपनी टीम को मजबूत लक्ष्य तक पहुंचाया । मूनी ने 54 गेंदों पर 10 चौके लगाए । उनके अलावा कप्तान मेग लेनिंग ने 15 गेंदों पर दो चौकों की बदौलत 16, एश्ले गार्डनर ने दो, रचेल हायेनेस ने चार और निकोला कैरी ने नाबाद पांच रन बनाए ।।भारत की ओर से दीप्ति शर्मा ने दो और राधा यादव तथा पूनम यादव ने एक-एक विकेट चटकाए ।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!