कोरोना वायरस को लेकर विभाग सतर्क, बना अलग वार्ड

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । चीन के बुहान शहर से फैली कोरोना वायरस को लेकर स्वास्थ्य विभाग सतर्क हो गया है। जिला संयुक्त अस्पताल सहित जिले के सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र व उप स्वास्थ्य केंद्रों में पदस्थापित चिकित्सकों व अन्य स्वास्थ्यकर्मियों को भी अलर्ट किया गया है। कोरोना से निपटने के लिए स्वास्थ्य कर्मियों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। शीघ्र ही जागरूकता अभियान भी चलाए जाने की योजना है। अंतरराष्ट्रीय महामारी का रूप ले चुकी कोरोना वायरस को लेकर जिला संयुक्त अस्पताल में अलग से आईसोलेशन वार्ड बनाया गया है। संभावित मरीज पाए जाने पर उसे आईसोलेशन वार्ड में ही रखा जाएगा।

इस संबंध में सीएमएस डॉ0 पी0बी0 गौतम ने बताया कि “वार्ड में 10 बेड लगाए गए हैं। यदि कोई मरीज आता है तो उसे इसी वार्ड में रखकर इलाज किया जाएगा। उन्होंने बताया कि हालांकि अभी तक ऐसा कोई मरीज नहीं आया है, फिलहाल प्रशासन अपनी तरफ से पूरी तैयारी कर रखा है।”

स्वास्थ्य विभाग के अनुसार अभी तक कोरोना वायरस से निपटने के लिए कोई कारगार इलाज संभव नहीं हो पाया है। कोरोना से बचने के लिए सावधानी की सबसे बड़ी दवा है। विभाग से मिली जानकारी के अनुसार कोरोना से बचने के लिए लोगों को जागरुक किया जाएगा। कोरोना वायरस के बारे में विस्तृत जानकारी दी जाएगी। उसके लक्षण बताए जाएंगे।”

वहीं एक सवाल के जवाब में मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 एस0के0उपाध्याय ने बताया कि “कोरोना वायरस को लेकर ऐसे देशों जहाँ कोरोना के केस हुए हैं जैसे-चीन, साउथ कोरिया, इंडोनेशिया, साउथ ईस्ट आदि से आये वाले लोगों की पूरी जाँच की जाय। इसी क्रम में ओबरा में निर्माणाधीन सी प्लांट में कार्यरत दो कोरियाई नागरिकों जो कुछ दिनों पूर्व ही साउथ कोरिया से वापस आये हैं, उनकी पूरी जाँच की गई लेकिन उनके अंदर कोरोना वायरस के सिम्टम्स नहीं दिखाई पड़े। फिर भी एहतियातन उन दोनों को आईसोलेशन वार्ड में रखा गया है। उन्हें बीस से तीस दिनों तक आईसोलेशन वार्ड में रखा जाएगा।”



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!