समय रहते अधिकारियों ने दिया होता ध्यान तो नहीं होता खनन हादसा : रामसेवक खरवार

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र। अनुसूचित जाति एवं जनजाति आयोग के सदस्य रामसेवक खरवार ने खनन दुर्घटना के लिए जिम्मेदार अधिकारियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही का संकेत दिया है। बुधवार को सोनभद्र पहुँचे अनुसूचित जाति एवं जनजाति आयोग के सदस्य रामसेवक खरवार ने घटनास्थल का दौरा किया और पीड़ित परिवार से मुलाकात भी किया। घटनास्थल से लौटने के पश्चात आज सिचाई डाक बंगले में प्रेस कांफ्रेंस किया। प्रेस कांफ्रेंस में उन्होंने कहा कि “यदि खनन सुरक्षा से जुड़े अधिकारी व खनन प्रभारी इस तरफ ध्यान दिए होते तो इतना बड़ा हादसा न हुआ होता। मानक व सुरक्षा के विपरीत कार्य होते रहे और अधिकारी लापरवाही करते रहे।”
उन्होंने कहा कि “योगी सरकार ने इस घटना को काफी गम्भीरता से लिया है। मुआवजे की राशि बढ़ाने के लिए आयोग सरकार से बात करेगा।”

पत्रकारों से वार्ता करने के उपरांत अनुसूचित जाति एवं जनजाति आयोग के सदस्य रामसेवक खरवार उरमौर स्थित निजी चिकित्सालय पहुँच ओबरा खदान हादसे के घायलों से मिल उनका हाल जाना।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!