महिलाओं के उत्पीड़न निस्तारण मामलों में लापरवाही कतई बर्दाश्त नहीं

जनपद न्यूज़ ब्यूरो

मिर्जापुर । जिला पंचायत सभागार में राज्य महिला आयोग की सदस्य अनामिका चौधरी ने आज पीड़ित महिलाओं की समस्याओं को सुना। उन्होंने अधिकारियों को हिदायत दिया कि महिला उत्पीड़न संबंधी मामलों को गंभीरता से लेते हुए निस्तारित करें। बैठक में शिक्षा व पुलिस विभाग के कई अधिकारियों के नहीं पहुंचने पर कड़ी नाराजगी जताया। सुनवाई के बाद राज्य महिला आयोग सदस्य द्वारा जिला पंचायत परिसर में महिला शक्ति केंद्र द्वारा संचालित स्वच्छता पखवाड़ा अभियान के तहत पौधरोपण कर पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया।
महिला जन सुनवाई के दौरान महिला प्रताड़ना, पड़ोस के दबंगों द्वारा महिला को मारने-पीटने, लैंगिक शोषण कर मोबाइल से फोटो खींचने, जमीन पर जबरन कब्जा, पति द्वारा खर्च एवं भरण पोषण नहीं देने, जलाकर मारने आदि कई प्रकार के महिलाओं संबंधित मामले आए। राज्य महिला आयोग की सदस्य ने संबंधित अधिकारियों को पीड़ित महिलाओं की समस्याओं को प्राथमिकता पर समाधान कराने का निर्देश दिया। जिला प्रोवेशन अधिकारी गिरीशचंद्र दूबे और क्षेत्राधिकारी सदर संजय कुमार सिंह ने जनपद में महिला उत्पीड़न के लिए किए जा रहे कार्यों के बारे में विस्तार से बताया।
कार्यक्रम का संचालन डॉ0रमेश ने किया। एडिशनल सीएमओ डॉ0 एस0के0 सिन्हा, महिला थाना प्रभारी, वन स्टाप सेंटर की रजनी, श्रृंखला, ऊंसा, दिव्या, निर्मला राय, निधि, उषा, नगीना सिंह, डॉ0 मंजू, शालिनी, दिव्या आदि रही।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!