बंदूक लहराकर खुलेआम फायरिंग करने वाले शाहरुख को 4 दिन के लिए पुलिस ने भेजा कस्टडी में

उत्तर-पूर्वी दिल्ली में नागरिकता कानून के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान भड़की हिंसा के वक्त बंदूक लहराकर खुलेआम फायरिंग करने वाले शख्स शाहरुख को चार दिन की पुलिस कस्टडी में भेजा गया। शाहरुख को दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने उत्तर प्रदेश के शामली से गिरफ्तार मंगलवार को किया और दिल्ली लेकर आई।

उसके बाद शाहरुख के खिलाफ पुलिस ने हत्या की कोशिश समेत कई धाराओं के तहत केस दर्ज किया। वह पिछले कई दिनों से पुलिस की नजर से बचता फिर रहा था, जबकि पुलिस उसकी तलाश में लगातार दबिश दे रही थी।

इससे पहले, एडिशनल कमिश्नर ऑफ पुलिस अजीत कुमार सिंगला ने कहा- “शाहरुख के ऊपर आईपीसी की धारा 307 (हत्या की कोशिश), 186 और 353 लगाई गई है। जांच के दौरान अगर आवश्यकता पड़ी तो और धाराएं लगाई जा सकती है। हम ज्यादा से ज्यादा समय तक रिमांड की मांग करेंगे।”

शाहरुख पर उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हुए दंगे के दौरान 24 फरवरी को खुलेआम फायरिंग करते हुए वीडियो वायरल हुआ था। दिल्ली की क्राइम ब्रांच ने उत्तर प्रदेश के शामली से शाहरुख को मंगलवार को गिरफ्तार किया है।

दिल्ली हिंसा में आरोपी ताहिर हुसैन को लेकर भी पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है। पुलिस ने शनिवार को भी दिल्ली से लेकर ताहिर के पैतृक गांव अमरोहा तक छापेमारी की मगर उसका कहीं कुछ पता नहीं चला। पुलिस ने ताहिर हुसैन के रिश्तेदारों और उसके करीबियों की लिस्ट तैयार की है। पुलिस उनसे भी पूछताछ कर रही है। अंकित शर्मा के परिजनों ने ताहिर पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं, लिहाजा उसकी तलाश की जा रही है।

उत्तर-पूर्वी दिल्ली के जाफाराबाद, गोकलपुरी, मौजपुर, भजनपुरा, करावल नगर आदि इलाकों में रविवार को नागरिकता संशोधन कानून के समर्थकों और विरोध करने वालों के बीच में हिंसक झड़प हुई थी, जिसके बाद यह हिंसा तीन दिन तक जारी रही। हिंसा में अब तक 47 लोगों की मौत हो चुकी है। दिल्ली हिंसा में पुलिस के हेड कॉन्स्टेबल रतनलाल के अलावा, इंटेलिजेंस ब्यूरो यानी आईबी अफसर अंकित शर्मा की भी हत्या हुई है।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!