चकबन्दी विभाग का एक और नया कारनामा

अबुलकैश डब्बल (ब्यूरो)

* किसानों में नही बाटी गयी आकर पत्र 45 की पर्ची
* भू माफियाओं के पास पहुंच गई आकार पत्र 45 की फोटो कॉपी
* धानापुर ग्राम सभा मे चकबन्दी प्रक्रिया अंतिम चरण में
चन्दौली। तहसील में जिल्द जमा करने से पहले नियमतः किसानों में आकार पत्र 45 की पर्ची बाटी जाती है जिससे किसान अपने जमीन की वास्तविक स्थिति से अवगत होता है और जो कमी होता है उसे आपत्ति के द्वारा सही कराता है लेकिन ऐसा नही हो रहा है। जिससे किसानों में रोष है वहीं जानकारी होने पर पर्ची लेने जा रहे किसानों से सुविधा शुल्क भी लिया जा रहा है। चकबन्दी विभाग द्वारा भू माफियाओं को लाभ पहुचाने के लिये हर वह कार्य किया जा रहा है जो नियम विरुद्ध है। आप इससे अंदाजा लगा सकते हैं कि धानापुर में गंगा में कटे जमीन, कब्रिस्तान, पोखरी, ब्लाक मुख्यालय, विद्यालय सहित चक आउट की मालियत लगाकर भू माफियाओं को सरकारी कीमती जमीन दे दी गई। प्रकरण को संज्ञान में लेते हुए क्षेत्रीय विधायक सुशील सिंह ने जिलाधिकारी चन्दौली को पत्र के माध्यम से धारा 52 के प्रकाशन से पूर्व धानापुर में एक बार पुनः अनियमितताओं की जांच कर कार्यवाही करते हुए धारा 52 का प्रकाशन करने को कहा गया लेकिन जांच किये बगैर फाइनल कार्यवाही कर दी गयी।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!