चंदौली नाव हादसा अपडेट : ओवरलोड के कारण नाव टूटने से हुई दुर्घटना

अबुलकैश डब्बल (ब्यूरो)

* नाव में कुल 40 लोग थे सवार, पांच क्विंटल से ज्यादा था सामान

चन्दौली। धीना थानांतर्गत महूजी गांव के पास शनिवार की देर शाम आलू की बिनाई कर गंगा पार कर घर वापस आ रहे ग्रामीणों की नाव टूट कर डूब गयी। नाव पर कुल लगभग 40 लोग सवार थे। जिसमे कुछ लोग तैर कर निकाल गए कुछ को ग्रामीणों ने बचाया लेकिन अभी भी पांच लोग लापता हैं। जिसको ढूढने का प्रयास चल रहा है। दुर्घटना की सूचने मिलते ही रात को क्षेत्रीय विधायक सुशील सिंह, जिलाधिकारी नवनीत सिंह चहल, पुलिस अधीक्षक हेमंत कुटियाल, अपर पुलिस अधीक्षक प्रेमचंद, भाजपा नेता राजेश सिंह पहुंच गए थे। मौके पर पहुंचे अधिकारी और जनप्रतिनिधियों ने वाराणसी से एनडीआरएफ की टीम बुलवाई रेस्क्यू जारी किया।

किसकी किसकी खोज है जारी
चन्दौली नाव दुर्घटना में मुरलीपुर निवासी फुलवासी 56 वर्ष, कविता 15 वर्ष, महूजी की उर्मिला 30 वर्ष, बिंदपुरवा की ज्योति 10 एवं कुसुमहि की ज्योति 14 को अभी भी गंगा में खोजने पलक प्रयास किया जा रहा है।

नाव टूटने से हुआ हादसा
चन्दौली ओवरलोड नाव लगभग किनारे पहुंच ही गया था कि टूट गया और नाव के साथ उसपर सवार लोग डूबने लगे। नाव सवार प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार नाव उस पार से जब चली तभी कुछ टूटने की आवाज हुई लेकिन नाविक द्वारा उसे नजरअंदाज कर दिया गया । फिर बीच मझदार में भी नाव ने हिचकोले खाई जिसपर केवट को कुछ आभास हुआ और वह तेज गति से नाव को किनारे के तरफ ले जाने लगा लेकिन किनारे से 40 से 50 फ़ीट दूर ही वह डूब गई। रेस्क्यू के दौरान नाव का टूटा हुआ हिस्सा बाहर निकाला गया जिसमें दुपट्टा और कपड़े फंसे हुए थे।

मृतकों के परिजनों को मिलेगा चार-चार लाख रुपये
चन्दौली जिलाधिकारी नवनीत सिंह चहल ने बताया कि अभी तक लापता महिलाओं की तलाश की जा रही है अगर इस नाव दुर्घटना में कोई मौत होती है तो मृतकों के परिजनों को चार चार लाख रुपये की आर्थिक मदद दी जाएगी।

खेत से आलू निकालने के लिए गंगा उस पर ग़ाज़ीपुर जाते थे मजदूर
चन्दौली प्रतिदिन की भांति शनिवार को भी खेत मे आलू खोदाई के लिए मजदूर मुरलीपुर, वीरसराय, महूजी, कुसुमहि, अवहीँ से नाव द्वारा उसपर जाते थे और मजदूरी कर आलू लेकर शाम को वापस आते थे। शनिवार को देर शाम लगभग 40 की संख्या में मजदूर आलू लेकर वापस आ रहे थे। नाव पर आलू और लोगो का वजन ज्यादा हो जाने से नाव टूट गया और एक बड़ा हादसा हो गया।

लापता लोगों के परिजनों का बुरा हाल
नाव दुर्घटना में लापता पांच लोगों के परिजनों का रोरो कर बुरा हाल हो गया है। लोग अब मानने लगे हैं कि लापता लोगों की डूबने से मौत हो गयी है। ऐसे में परिजन गंगा में एक टक टकटकी लगाए हुए हैं कि कहीं से वह निकल कर वापस आ जाय।

ग्रामीणों ने दिखाया साहस, दर्जनों को बचाया
चन्दौली नाव दुर्घटना की जानकारी होते ही गांव के युवा गंगा में दौड़ कर छलांग लगा दिए और लगभग दर्जनों को डूबने से बचाकर बाहर निकाला।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!