591 जोड़े हुए एकदूजे के लिए, श्रम मंत्री ने आशीर्वाद देकर की उज्जवल भविष्य की कामना

आनंद चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । “कन्या विवाह सहायता योजना ’’ के अन्तर्गत शनिवार को राबर्ट्सगंज के डायट मैदान परिसर में धूम-धाम के साथ धार्मिक रीति-रिवाजों के साथ मण्डल स्तरीय 591 जोड़ों की सामूहिक कन्या विवाह कार्यक्रम सरकारी खर्चे पर शादी सम्पन्न हुईं।

सरकार के मंशा के मुताबिक ‘‘ कन्या विवाह सहायता योजना ’’ के तहत डायट परिसर में आयोजित श्रम विभाग के तत्वाधान मे आयोजित विन्ध्याचल मण्डल के तीनो जिलों के श्रम विभाग में पंजीकृत मजदूरों के बेटियों की शादी में मजदूर के खाते में ‘‘कन्या विवाह सहायता योजना’’ के तहत 75-75 हजार रूपये सीधे खाते में भेजे गये और प्रति जोडे 7-7 हजार प्रतिजोडे के हिसाब से शादी समारोह पर खर्च किये गये। मण्डल स्तरीय श्रम विभाग के तत्वावधान में आयोजित सोनभद्र जिले के 287 जोडे, मीरजापुर के 234 जोडो व भदोही के 70 जोडो यानी कुल 591 जोडो की शादी धार्मिक रिति-रिवाज से सम्पन्न हुई, जिसमें 575 जोडे हिन्दू समाज के व 16 जोडे मुस्लिम समाज के रहे।

प्रदेश के लोकप्रिय मंत्री श्रम एवं सेवायोजन समन्वय विभाग स्वामी प्रसाद मौर्य ने समारोह में उपस्थित होकर जनप्रतिनिधियो, सरकारी अधिकारियों व घराती व बारातियों के साथ धार्मिक पूजा, जयमाल, कन्यादान सिन्दूरदान, शादी के सात फेरे कराकर व मुस्लिम समाज मोलवी से निकाह कराकर शादी सम्पन्न करायी। शादी समारोह में भोज का भी आयोजन किया गया। शादी समारोह की तैयारी वर व वधु पक्ष द्वारा धार्मिक रीति-रिवाज के साथ की गयी। बाकायदे बारात आयी, बारात का स्वागत किया गया, वर व वधु पक्ष के लोगों का सेवा सत्कार किया गया। मंत्री जी नें विशाल शादी समारोह पाण्डाल में जा कर वर-वधुओं को आशीर्वाद दिया और उज्जवल भविष्य की कामना की।

मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने आयोजकों की तारीफ करते हुए केन्द्र सरकार व प्रदेश सरकार द्वारा चलायी जा रही योजनाआें पर विस्तार से प्रकाश डाला। उन्होने कहॉ कि ‘‘सबका साथ सबका विकास एवं सबके विश्वास’’ के सकंल्प को पूरा करते हुए अन्तिम पायेदान पर खडे गरीबों को प्राथमिकता के आधार पर योजनाओं का लाभ पहुचा रही है। महिलाओं के लिए उज्जवल योजना के तहत गैस सिलेण्डर व चूल्हा सभी शौचालय, सौभाग्य योजना के तहत निःशुल्क बिजली कनेक्शन, पॉच लाख तक मुफ्त ईलाज के लिए आयुष्यमान गोल्डेन व मुख्यमत्री जन आरोग्य कार्ड, किसानों का फसल बीमा व किसान सम्मान योजना का लाभ, मुख्यमंत्री शादी योजना का लाभ दे रही है। उन्होने कहॉ कि मजदूर देश का निर्माता होता और भाग्य विधाता होता है, मजदूर सुई से लेकर जहाज तक बनाने में अपना योगदान करता है। उन्होने कहॉ कि मजदूरों के बेटियों की शादी आर्शीवाद देने का मौका पाना सौभाग्य की बात है। उन्होने कन्या सुखमय जीवन की कामना की । उन्होने जिले के नागरिकों से अपील किया कि वे श्रम कार्यालय में पंजीकरण कराकर उत्तर प्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड द्वारा संचलित योजनाओं का लाभ उठांयें। ज्ञातब्य हो कि श्रम विभाग द्वारा प्रति जोडे के हिसाब से 75-75 हजार रूपये सम्बन्धित श्रमिक के खाते में भेजी गया और सात-सात हजार रूपये के औसत से शादी समारोह पर खर्च किये गये यानी एक जोडे पर 82र हजार रूपये यानी कुल 591 जोडे पर 4 करोड़ 84 लाख 62 हजार की रकम खर्च की गयी।
उन्होने अपने सम्बोधन मे कहा कि भवन एवं अन्य निर्माण श्रमिकों के द्वारा निकटतम श्रम कार्यालय में अपना पंजीयन तीन वर्ष के लिए मात्र रूपये 80 का शुल्क जमा करके कराया जा सकता है तथा पंजीकृत श्रमिकगण तीन वर्षा के लिए मात्र रूपये 60 का शुल्क जमा करके तीन वर्ष के लिए नवीनीकरण करा सकते है, जिसके लिए उन्हे निर्धारित प्रारूप पर आवेदन पत्र भरकर प्रस्तुत करना होगा। निर्माण श्रमिक अपना पंजीयन, नवीनीकरण, योजनाओं में आवेदन करने की कार्यवाही सहज जन सेवा केन्द्रो में भी करा सकते है। उपरोक्त निर्धारित शुल्क, रकम या धनराशि देय नही है। उन्होने बताया पंजीकृत निर्माण श्रमिको के लिए चिकित्सा सहायता योजना के अन्तर्गत रूपये 3 हजार, तक की सहायता, मातृत्व हितलाभ योजना के अन्तर्गत महिला पंजीकृत निर्माण श्रमिक को प्रसव होने पर तीन माह का न्यूनतम वेतन व रूपये एक हजार चिकित्सा बोनस, गर्भपात होने पर 06 सप्ताह का न्यूनतम वेतन, नसबन्दी कराने पर दो सप्ताह का न्यूनतम वेतन, पुरूष पंजीकृत निर्माण श्रमिक की पत्नी को प्रसव होने पर रूपये 06 हजार की सहायता की दो किश्तों में, शिशु हितलाभ योजना के अन्तर्गत पुत्री का जन्म होने पर रूपये 15 हजार प्रति वर्ष, पुत्र का जन्म होने पर रूपये 12 हजार प्रति वर्ष दो वर्षा तक, बालिका मद्द योजना के अन्तर्गत परिवार में जन्मी प्रथम पुत्री को रूपये 25 हजार की एफ0डी0, दिव्यांग पुत्री को रूपये 50 हजार की एफ0डी0 जिसका नकदीकरण उसके वयस्क होने पर प्राप्त किया जा सकेगा, संत रविदास शिक्षा सहायता योजना के अन्तर्गत निर्माण श्रमिकों की पुत्र/पुत्रियों को कक्षा एक से उच्चतर पाठ्यक्रमों तक रूपये 150 से रूपये 02 हजार प्रतिमाह तक की छात्रवृत्ति, कक्षा 10 या 12 उत्तीर्ण करने वाली छात्राओं को साइकिल सहायता, मेधावी छात्र पुरस्कार योजना के अन्तर्गत मेधावी छात्र/छात्राओं को रूपये 04 हजार से रूपये 22 हजार तक का पुरस्कार, कौशल विकास, तकनीकी उन्नयन एवं प्रमाणन योजना के अन्तर्गत पंजीकृत निर्माण श्रमिक व उसके पुत्र/पुत्रियों को कौशल विकास मिशन के अन्तर्गत प्रशिक्षण, कन्या विवाह सहायता योजना के अन्तर्गत पुत्रियों के विवाह हेतु रूपये 55 हजार अन्तर्जातीय विवाह हेतु रूपये 61 हजार तथा सामूहिक विवाह हेतु रूपये 65 हजार की सहायता, आवास सहायता योजना के अन्तर्गत बनाने हेतु रूपये 01 लाख, आवास मरम्मत हेतु रूपये 15 हजार, तथा शौचालय बनवाने हेतु रूपये 12 हजार की सहायता, गंभीर बीमारी सहायता योजना के अन्तर्गत कतिपय गंभीर बीमारियों के इलाज हेतु शत-प्रतिशत प्रतिपूर्ति की जायेगी, महात्मा गॉधी पेंशन योजना के अन्तर्गत 10 वर्ष तक निरन्तर अंशदान जमा करने के बाद साठ वर्ष की उम्र के बाद आजीवन रूपये 01 हजार प्रतिमाह पेंशन, मुत्यु एवं विकलांगता सहायता योजना के अन्तर्गत दुर्घटना मुत्यु होने पर 5 लाख, सामान्य मृत्यु होने पर रूपये 2 लाख, कार्य स्थल पर कार्य करते समय घटित दुर्घटना के कारण आंशिक स्थायी अपंगता पर रूपये 03 लाख, कार्य स्थल से इतर स्थायी पूर्ण अपंगता पर 02 लाख, कार्य स्थल से इतर अस्थायी आंशिक अपंगता होने पर रूपये 01 लाख तथा गैर पंजीकृत निर्माण श्रमिक की कार्यस्थल पर दुर्घटनावश मृत्यु होने पर रूपये 50 हजार की सहायता , अन्त्योष्टि सहायता योजना के अन्तर्गत निर्माण श्रमिक की मृत्यु होने पर 25 हजार अन्त्येष्टि सहायत प्रदान की जायेगी, उन्होने बताया कि अधिक जानकारी /परामर्श अथवा शिकायत हेतु उत्तर प्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड के टोल फ्री नम्बर 18001805412 पर बात कर सकते है।

शादी समारोह को श्रम सेवायोजन व समन्वय विभाग के मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य के अलावा जिलाधिकारी एस0 राजलिगंम, सांसद पकौडी लाल कोल, विधायक घोरावल डा0 अनिल कुमार मौर्या, जिलाध्यक्ष भाजपा अजीत चौबे, जिलाध्यक्ष अपना दल एस सत्यनारायण सिंह पटेल, मुख्य विकास अधिकारी अजय कुमार द्विवेदी, अपर श्रमायुक्त मीरजापुर क्षेत्र पिपरी सरजूराम शर्मा, पूर्व विधायक व जिला सहकारी बैक के चेयर मैन राजेन्द्र सिंह आदि ने सम्बोधित किया। इस मौके पर डिप्टी कलेक्टर रमेंश कुमार, मोहन कुशवाहा, चॉद जैन, श्री अजीत रावत, दामोदार मौर्या, विशाल गुप्ता, प्रतिमा मौर्य, इन्द्रजीत तिवारी, गोपाल दास गुप्ता, जिला विकास अधिकारी रामबाबू त्रिपाठी, मुख्य चिकित्साधिकारी एस0 के उपाध्याय,मा0 जनप्रतिनिधिगण, गणमान्य नागरिकों ने शादी समारोह कार्यक्रम में सकारात्मक सहयोग किया।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!