राजनीति में किसी से बदले की भावना से काम नहीं होना चाहिए- अखिलेश यादव

सांसद आजम खां से मिलने अखिलेश यादव सीतापुर कारागार पहुंच गए हैं। दोपहर ठीक एक बचकर 55 मिनट पर यह जेल के भीतर दाखिल हुए। पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के साथ पूर्व मंत्री रामपाल राजवंशी, पूर्व विधायक राधेश्याम जयसवाल, पूर्व विधायक अनूप गुप्ता सहित कई अन्य भी जेल के भीतर गए हैं। कारागर प्रशासन से अनुमति मिलने के बाद ही सभी का मिलना हुआ है। जेल के बाहर पुलिस और पीएसी तैनात है।

आपको बता दें कि रामपुर सांसद आजम खां को पत्नी और पुत्र के साथ रामपुर जेल से प्रशासनिक व्यवस्था के आधार पर सीतापुर जेल स्थानांतरित किया गया। गुरुवार सुबह रामपुर पुलिस ने तीनों को सीतापुर जेल में दाखिल कराया हैं। सांसद आजम और इनके पुत्र विधायक अब्दुल्ला आजम खान जेल की विशेष सुरक्षा बैरिक में रखे गए हैं। पत्नी विधायक तंजीन फातिमा महिला वार्ड में हैं।

सुबह करीब सवा दस बजे रामपुर पुलिस कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच तीनों को सीतापुर जेल लेकर पहुंची। यहां पहले से कई थानों की पुलिस व पीएसी मौजूद थी। अफरा-तफरी के बीच सांसद आजम, इनकी पत्नी और पुत्र को सीतापुर कारागार में दाखिल कराया। कानूनी प्रक्रिया पूरी करने के बाद रामपुर पुलिस वापस रवाना हो गई। सांसद और उनके परिवार से मिलने आए रामपुर के कई लोगों को पुलिस की सख्ती का सामना करना पड़ा। किसी को भी आजम खान से मिलने की अनुमति नहीं मिली।

कारागार अधीक्षक डीसी मिश्रा का कहना है कि सवा दस बजे सांसद आजम खान, इनकी पत्नी विधायक तंजीन फाातिमा और पुत्र अब्दुल्ला आजम खान को रामपुर पुलिस ने प्रशासनिक स्थानांतरण के आधार पर सीतापुर जेल में दाखिल कराया है। सांसद और उनके पुत्र को जेल के भीतर विशेष सुरक्षा बैरिक में रखा गया है। जबकि विधायक पत्नी तंजीन फातिमा महिला वार्ड में शिफ्ट हैं। बताया कि प्रोटोकाल के हर मानकों का अनुपालन कराया जा रहा है।

सीतापुर जिला जेल में बंद सपा के वरिष्ठ नेता आजम खान और उनके परिजनों से मिलकर वापस लौटते समय पत्रकारों के द्वारा पूछे गए सवाल पर सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि जब से भारतीय जनता पार्टी की सरकार उत्तर प्रदेश में आई है भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनते ही निशाने पर समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान को लिया उन्होंने ।

अखिलेश यादव ने कहा कि समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान के खिलाफ लगातार षड्यंत्र हो रहा है और यह राजनीतिक षड्यंत्र है जिसके तहत उन्हें आज जेल में रहना पड़ रहा है । यह पूरी तरीके से भारतीय जनता पार्टी के लोगों ने मिलकर के साजिश और षड्यंत्र किया है । पूर्व सीएम ने कहा कि लेकिन इस तरह से राजनीति में किसी से बदले की भावना से काम नहीं होना चाहिए ।

अखिलेश यादव ने कहा कि मुझे उम्मीद है कि आने वाले समय में न्यायालय उनकी मदद करेगा । न्यायालय से उन्हें मदद होगी । आजम खान का पूरा परिवार यहां पर है उनकी पत्नी का स्वास्थ्य भी ठीक नहीं है । बेटे के हाथ में भी चोट है । मुझे उम्मीद है कि जो यहां का प्रशासन है और जेल प्रशासन है उससे जो सहूलियत होगी वह आजम खान को मिलेंगी ।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!