मैनेजर ने पीएम किसान सम्मान के लाभार्थी का केसीसी फॉर्म लेने से किया इंकार

रमेश यादव (संवाददाता)अन्य बैंक जाने की सलाह – पीएम किसान सम्मान के लाभार्थियों का केसीसी करने में आनाकानी कर रहे बैंक मैनेजर – दुद्धी के इलाहाबाद बैंक मैनेजर सरकार के योजनाओं को लगा रहे पलीता, नहीं कर रहे पीएम सम्मान का के सी सी लोन – सरकारी योजनाओं का लाभ दिलाने में फिसड्डी साबित हो रहे दुद्धी के बैंक दुद्धी।भारत सरकार ने किसानों को आसानी से ऋण उपलब्ध कराने के लिए पी एम किसान सम्मान योजना के लाभार्थियों के लिए ऋण सुविधा प्रदान करते हुए बड़ी राहत दी है जिसके तहत किसान डेढ़ लाख रुपये से तीन लाख रुपये तक का लोन बिना गारन्टी के अपने बैंक शाखा से ले सकते हैं लेकिन सोनभद्र के अग्रणी बैंक इलाहाबाद बैंक की शाखा दुद्धी द्वारा पी एम किसान सम्मान योजना के लाभार्थियों का केसीसी फॉर्म नही जमा करने तथा लोन नही करने का मामला प्रकाश में आया है जिससे प्रधानमंत्री जी की किसानों के लिए महत्वपूर्ण योजना पी एम किसान की के सी सी करने का वायदा बैंक मैनेजर की लापरवाही से खोखला साबित हो सकती है। बता दें कि मंगलवार को पी एम किसान सम्मान योजना का एक लाभार्थी शासन द्वारा उपलब्ध कराई गई फार्मेट भरकर उप मुख्य पशु चिकित्साधिकारी से प्रमाणित कराकर फॉर्म जमा करने गया तो बैंक कर्मी उसकी फॉर्म न जमा करके उसी से ही इस योजना के बारे में पूछने लगे इसके बाद फॉर्म न जमा करते हुए किसी और बैंक से के सी सी कराने की सलाह देकर किनारा काट लिए जबकि लाभार्थी का उसी बैंक में खाता है जहां उसका पी एम किसान सम्मान योजना का पैसा आता है।वहीं जिलाधिकारी महोदय ने अभी कुछ दिन पहले जिले के अधिकारियों एवं बैंक मैनेजरों के साथ मीटिंग करके जिले से लगभग 700 के आसपास के सी सी लोन कराने के निर्देश दिए थे जिस क्रम में दुद्धी के विभिन्न बैंकों से लगभग 50 लोगों का के सी सी होना प्रस्तावित है लेकिन जिस तरह इलाहाबाद बैंक दुद्धी की लापरवाही सामने आ रही है ऐसे में कितने किसानों को के सी सी लोन का लाभ मिल पाएगा यह कहना बड़ा मुश्किल हैं।
बता दें कि प्रधानमंत्री पी एम किसान सम्मान योजना के लाभार्थियों के लिए फसल एवं पशु तथा मत्स्य पालन के लिए आसान के सी सी योजना लाई है जिसके अंतर्गत किसानों को 4 से 7 प्रतिशत वार्षिक ब्याज दर पर लोन दिए जाने की योजना है जिसकी शुरुआत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्वयं 29 फरवरी को करेंगे इसके लिए फॉर्म भरने का कार्य चल रहा है।लेकिन यहां तो योजना शुरू होने से पहले ही दुद्धी के बैंक मैनेजर योजना को पलीता लगाने में कोई कोर कसर नही छोड़ रहे हैं तो यह पी एम किसान के सी सी कितना सफल होगा या बैंक मैनेजरों की लापरवाही की भेंट चढ़ जाएगी यह देखने वाली बात होगी ।हालांकि पीड़ित किसान ने तत्काल इसकी लिखित सूचना उप जिलाधिकारी दुद्धी को लिखित शिकायत देकर किसानों की के सी सी फॉर्म आसानी जमा कराने की मांग की है।जिससे अधिक से अधिक किसानों का इस योजना का लाभ मिल सके ।
डी सी एफ अध्यक्ष एवं भाजपा नेता सुरेन्द्र अग्रहरि ने कहा कि फसल एवं पशुपालन उद्योग हेतु ऋण के लिए इलाहाबाद बैंक के मैनेजर आनाकानी कर रहे हैं जिससे बकरी पालन, डेयरी पालन,भेड़ पालन करने वाले लोगों को ऋण नही मिल पा रहा है,जबकि इसी बैंक में दूसरे ऋण के लिए दलालो के माध्यम से जाएंगे तो आपका स्वागत किया जाएगा क्योंकि उसमें कमीशन ज्यादा है। उन्होंने कहा कि जिलाधिकारी महोदय का स्पष्ट आदेश है कि पी एम किसान योजना के किसानों को पशुपालन उद्योग हेतु प्राथमिकता के आधार पर ऋण दिया जाए लेकिन बैंक मैनेजर की लापरवाही सामने आ रही हैं जिसे कदापि बर्दाश्त नहीं की जाएगी ।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!