पुजारी की धारदार हथियार से हत्या, दूसरे पुजारी पर लगा हत्या का आरोप, मामला दर्ज

राजेश गुप्ता (संवाददाता)

पीलीभीत । रंजिश मानते हुए एक पुजारी ने अपने मंदिर में एक दूसरे पुजारी की लाठी-डंडा तथा धारदार हथियार से मारकर निर्मम हत्या कर दी ।
सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कॉलेज के प्रधानाचार्य रविशरण चौहान द्वारा कोतवाली बीसलपुर को एक शिकायत पत्र देते हुए पुलिस बताया कि तहसील बीसलपुर में स्थित सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कॉलेज के बराबर में बालाजी मंदिर है, इंटर कॉलेज तथा बालाजी मंदिर का संचालन एक ही समिति के द्वारा किया जा रहा है और समिति के द्वारा ही 10 वर्ष पूर्व पुजारी रमेश चंद्र मिश्रा निवासी ग्राम चरखोला, बिलसंडा को मंदिर की देखरेख के लिए समिति के द्वारा नियुक्त किया गया था । रमेश चंद्र मिश्रा पुजारी के गलत चाल चलन को देखते हुए समिति द्वारा मार्च 2020 को उन्हें हटाने का निर्देश दिया गया था और समिति द्वारा एक दूसरे पुजारी विष्णु शरण ब्रह्मचारी पुत्र जनक नंदिनी शरण ब्रह्मचारी निवासी बालाजी मंदिर संवला रोड, जेठाना अजमेर राजस्थान को मंदिर की देखरेख करने के लिए 7 माह पूर्व नियुक्त कर दिया गया था। जिस वजह से पुजारी रमेश चंद्र मिश्रा विष्णु शरण ब्रह्मचारी से रंजिश मानने लगे थे। उनके दिमाग में यह बात घर कर गई थी कि उनको विष्णु शरण ब्रह्मचारी के कारण ही मंदिर से निकाला जा रहा है। इसी की रंजिश मानते हुए आज तड़के पुजारी रमेश चंद्र मिश्रा तथा उनके परिवार जनों ने बालाजी मंदिर में ही नए पुजारी विष्णु शरण ब्रह्मचारी की धारदार हथियार तथा लाठी-डंडों से मारकर उनकी निर्मम हत्या कर दी तथा घटना को अंजाम देकर सभी लोग घटना के बाद फरार हो गए । उनको भागते हुए राहगीरों ने देखा भी है । प्रधानाचार्य ने प्रार्थना पत्र देकर कानूनी कार्रवाई की मांग की है।
वहीं कोतवाली पुलिस द्वारा हत्या आरोपी पुजारी रमेश चंद्र मिश्रा तथा उनके परिवारी जनों के खिलाफ धारा 302 के अंतर्गत मुकदमा पंजीकृत कर लिया है।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!