अधूरे मिले शौचालय तो होगा प्रधानों पर मुकदमा, जल्द कराएं कार्य

अबुलकैश डब्बल ब्यूरो

* गर्मी से पहले बदले जाएं बिजली के जर्जर तार, नही चलेगी बहानेबाजी : आयुक्त

चन्दौली। आयुक्त वाराणसी मण्डल वाराणसी एवं जनपद के नोडल अधिकारी श्री दीपक अग्रवाल ने कलेक्टेªट सभागार में जनपद स्तरीय अधिकारियों के साथ विकास कार्यक्रमों की समीक्षा बैठक की। बैठक के दौरान मुख्य चिकित्साधिकारी को निदेर्शित करते हुये कहा कि पं0 कमलापति त्रिपाठी संयुक्त चिकित्सालय में एक अलग से चिकित्सकों की टीम गठित कर अलग कमरे में सुचारू रूप से व्यवस्था की शुरूआत करे, जिसमें आयुष्मान योजना के पात्र व्यक्तियों की इलाज प्राथमिकता एवं सक्रियता के साथ सफल किया जाय जिससे आयुष्मान भारत योजना में पात्र लाथार्थियों के मरीजोें की संख्या प्राईवेट हास्पिटल में कम से कम जाये। इसके लिए चिकित्सकों को दिशा निर्देश जारी करते हुये इस पहल पर विशेष कार्य किया जाय अगले बैठक में बताया जाय कि अब तक कितने आयुष्मान योजना में पात्र मरीजों का अलग से इलाज किया गया। इसके साथ मा0 मुख्यमंत्री जी द्वारा शुभारम्भ किये गये मुख्यमंत्री आरोग्य स्वास्थ्य मेला में अधिक से अधिक मरीजों को लाभान्वित किया जाय। साथ ही जनपद के सीएचसी व पीएचसी का समय-समय पर औचक भ्रमण कर वहाॅ की स्वास्थ्य व्यवस्था को सुदृढ़ बनाया जाय, लापरवाह चिकित्सकों के खिलाफ विभागीय कार्यवाही सुनिश्चित किये जाय, इसमें किसी प्रकार की लापरवाही या शिथिलता मिली तो खैर नही। जिला पंचायत राज अधिकारी को निदेर्शित करते हुये कहा कि ग्राम पंचायतों में लगाये गये सफाईकर्मियों द्वारा साफ-सफाई न करने व कोरमपूर्ती करने वाले सफाईकर्मियों के खिलाफ सख्ती से पेश आये इसमें किसी प्रकार की लापरवाही न मिले। इसके साथ उनकी प्रतिदिन की उपस्थिति साफ-सफाई की फोटो व जीओ टैगिंग के जरीये किया जाय साथ ही एडीओ पंचायत के वाट्सएप पर भेजा जाय। गाॅवों का भ्रमण कर साफ-सफाई एवं निर्माणाधीन शौचालयों का स्थलीय निरीक्षण कर जिलाधिकारी को रिपोर्ट से अवगत कराया जाय। आयुक्त ने स्वच्छ भारत अभियान के सभी नोडल अधिकारियों को सख्त निर्देश देते हुये कहा कि तीन दिन के भीतर नोडल अधिकारी आवंटित गाॅवों का अधूरे शौचालयों को चिन्हित कर ग्राम प्रधान को रिपोर्ट से अवगत कराये ताकि 15 दिन में अधूरे शौचालयों का कार्य ग्राम प्रधान करा दे पूर्ण अन्यथा होगा मुकदमा।
मुख्य पशु चिकित्साधिकारी को निदेर्शित करते हुये कहा कि अस्थायी निराश्रित पशु आश्रय स्थल से निर्माणाधीन गोवंश आश्रय स्थल कठौरी व नेकनामपुर को जल्द पूरा कर निराश्रित पशुओं को शिफ्ट किया जाय। इसके साथ सड़को पर कोई भी निराश्रित गोवंश न मिले सुनिश्चित करे। साथ ही पशुओं के चारा,पानी व इलाज का समुचित प्रबन्ध हो इसके लिए निरन्तर नोडल अधिकारियों से भ्रमण कराया जाय और इसकी रिपोर्ट जिलाधिकारी को प्रस्तुत किया जाय। कहा कि तहसील दिवस के ऐसे प्रकरणों में जिसमें पुलिस के साथ संयुक्त टीम की आवश्यकता है थाना दिवस के दौरान ऐसे प्रकरणों को पुलिस बल भेजकर उनका समाधान करा दिये जाय। जिला पंचायत राज अधिकारी को निर्देश देते हुये कहा कि गर्मी के मौसम आने से पहले गाॅवों में रिर्बोर युक्त हैण्डपम्पों की शिकायत को प्राथमिकता पर ग्राम प्रधान से कराया जाय इसमें लापरवाही मिली तो संबंधित के खिलाफ सख्ती से पेश आये। वही निर्माणाधीन प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) में लाभार्थियों के खाते में दूसरी किस्त की धनराशी भेजकर गुणवत्तापूर्ण कार्य कराया जाय। जिला समाज कल्याण अधिकारी से कहा मुख्यमंत्री सामुहिक विवाह योजना में आन लाइन फीडिंग करने में किसी प्रकार की लापरवाही न मिले कर्मचारियों को सख्त निर्देश दिया जाय ताकि लाभार्थियों को काफी दिनों तक कार्यालय का चक्कर लगाना पड़ता है। जिला द्विव्यांगजन अधिकारी को सख्त निर्देश दिया कि जनपद में द्विव्यांगजन पेंशन या विभागीय योजनाओं से वंचित न रहे इसके लिए क्षेत्र में टारगेट बनाकर चिन्हित किया जाय। किसी स्तर पर कठिनाई आये तो उच्चाधिकारी को अवगत कराया जाय। कन्या सुमंगला योजना में पात्र लोगों का चयन कर उनकी रिपोर्ट शासन स्तर पर समय-समय पर भेजा जाय ताकि उनको लाभ मिल सके।
श्री आयुक्त ने जनपद में कुपोषित बच्चे न रहे इसके लिए मेहनत व लगन से कार्य करे लाल श्रेणी के बच्चों को एनआरसी चकिया में भर्ती कर समुचित उपचार कराकर लाल से हरा श्रेणी में लाया जाय। बिजली के जर्जर तारों को गर्मी के मौसम आने से पहले ही ठीक कर लिया जाय उस समय किसी प्रकार कि बहानेबाजी नही चलेगी। इसके साथ जले टान्सर्फामर व लटके तार या पोल को दुरूस्त किया जाय। शिकायतों को गम्भीरता से लिया जाय अन्यथा वेतन रोकने के साथ विभागीय कार्यवाही सुनिश्चित होगी। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को निदेर्शित करते हुये कहा कि प्राथमिक विद्यालय में शिक्षा का स्तर सुदृढ़ हो इसके लिए बच्चों की हर माह के अन्त में उपस्थिति संकलित किया जाय इसमें अधिक उपस्थिति वाले बच्चों के साथ उनके माता-पिता व अभिभावक को सम्मानित किया जाय। वही प्राथमिक विद्यालयों में ग्राम प्रधान द्वारा कायाकल्प योजना के अन्तर्गत छोटी-मोटी कमियों को पूर्ण करा लिया जाय। मध्यान भोजन मीनू के अनुसार व मानक के अनुरूप बनाया जाय इसमें किसी प्रकार की लापवाही मिली तो प्रधानाध्यापक के खिलाफ सख्ती से पेश आये। सभी जनपदों के अपेक्षा अधिक मेहनत करने की जरूरत है जिससे इस जनपद की प्राथमिक शिक्षा हाईटेक हो यहाॅ की स्कूलों की सराहना प्रदेश स्तर पर किया जाय। आयुक्त ने बैठक समाप्ति से पूर्व सभी जनपद स्तरीय अधिकारियों को सख्त निर्देश दिया कि आईजीआरएस पोर्टल पर प्राप्त आन लाइन सन्दर्भो को गुणवत्तापूर्ण समय-सीमा में निस्तारित किया जाय कार्यालय स्तर पर लम्बित या डिफाल्ट श्रेणी में जिस विभाग का पाया गया तो संबंधित अधिकारी का वेतन रोकते हुये विभागीय कार्यवाही शुरू होगी।
अन्त में जिलाधिकारी श्री नवनीत सिंह चहल ने आयुक्त महोदय को धन्यवाद ज्ञापित करते हुये सभी अधिकारियों को निदेर्शित किया बैठक में आयुक्त महोदय द्वारा दिये गये निर्देशों का पालन पूरे मनोयोग से किया जाय साथ ही अगले बैठक के लिए दिये गये निर्देशों का पूरी तैयारी के साथ उपस्थित रहेगें। बैठक के दौरान पुलिस अधीक्षक हेमन्त कुटियाल, अपर जिलाधिकारी बच्चा लाल, सभी उपजिलाधिकारी, उप निदेशक कृषि, मुख्य चिकित्साधिकारी, जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी, जिला विद्यालय निरीक्षक, डीसी मनरेगा, जिला समाज कल्याण अधिकारी, प्रोबेशन अधिकारी, जिला पंचायत राज अधिकारी, डीसी मनोज श्रीवास्तव, जिला पूर्ति अधिकारी सहित विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!