गाँवों के क्लस्टर को “रूर्बन गांवों” के रूप में किया जाएगा विकसित

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । श्यामा प्रसाद मुखर्जी रूर्बन मिशन योजनान्तर्गत शहरी मानी जाने वाली सुविधाओं से समझौता किए बिना समता और समावेशन पर जोर देते हुए ग्रामीण जनजीवन के मूल स्वरूप को बनाए रखते हुए गांवों के क्लस्टर को “रूर्बन गांवों” के रूप में विकसित करना है। जनपद सोनभद्र में योजनान्तर्गत फेज-2 के अन्तर्गत विकास खण्ड नगवॉ के दूरस्थ पहाड़ी एवं पठारी भू-भाग पर स्थित अनुसूचित जनजाति बाहुल्य क्षेत्र को क्लस्टर ग्राम कोदई के रूप में चयनित किया गया है। इस क्लस्टर ग्राम में पॉच ग्राम पंचायतें कोदई, पल्हारी, बैजनाथ, मरकुड़ी एवं चेरूई सम्मिलित है।
इस क्लस्टर ग्राम के विकास हेतु ₹78.03 करोड़ के सापेक्ष इन्टीग्रेटेड क्लस्टर एक्षन प्लान अनुमोदित है, जिसमें कन्वर्जेन्स फण्ड (विभागीय बजट) से ₹62.97 करोड़ एवं क्रिटिकल गैप फण्ड से ₹15.00 करोड़ की धनराशि खर्च किये जाने का प्राविधान है। कन्वर्जेन्स फण्ड के अन्तर्गत क्लस्टर ग्राम में स्वच्छ भारत मिशन के अन्तर्गत 1985 शौचालय बनाये गये हैं। लोक निर्माण विभाग नि0ख0-2 द्वारा मुख्यालय तक आने के लिए 04 सम्पर्क मार्गों का मरममत कराया गया है। एल0पी0जी0 गैस गोदाम, 04 चेकडैम एवं सभी ग्राम पंचायतों को सौभाग्य योजना के अन्तर्गत विद्युतीकरण कराया गया है। चिकित्सा सुविधा हेतु मोबाईल हेल्थ यूनिट संचालित है। सभी ग्राम पंचायतों में सिटिजन सर्विस सेंटर खोला गया है। उज्वला योजना के अन्तर्गत 566 महिलाओं को अब तक निःशुल्क एल0पी0जी0 गैस वितरित किया गया है। क्लस्टर ग्राम के सभी ग्राम पंचायतों/राजस्व ग्रामों में एम्बुलेंस सेवाएॅ सुलभ हो इस दृष्टि से डीएमएफ के अन्तर्गत “मगरदह गड़वान बैजनाथ वाया कोदई स0मा0 के पुर्ननिर्माण कार्य 15.50 किमी” निर्माण हेतु ₹805.53 लाख की धनराशि प्रस्तावित की गयी है। क्लस्टर ग्राम के सभी प्राथमिक/उच्च प्राथमिक विद्यालयों एवं ऑगनबाड़ी केन्द्रों को कायाकल्प के अन्तर्गत पुर्ननिर्माण कराया जा रहा है। पॉच बी0एस0एन0एल मोबाईल टॉवर निर्माण कराये जाने का प्रस्ताव में है, जिसमें 02 टॉवर के लिए धनराशि हेतु प्रस्ताव भारत सरकार स्तर पर प्रेषित किया गया है। शेष 02 टॉवर निर्माण के लिए धनराशि की व्यवस्था जनपद स्तरीय संसाधनों से की जाने की कार्यवाही चल रही है।

क्रिटिकल गैप फण्ड के अन्तर्गत अब तक 11 विद्यालयों में सोलर आधारित पम्प एवं आर0ओ0 प्यूरीफायर की स्थापना करायी गयी है। ग्राम कोदई में कोदई घास सम्पर्क मार्ग 1.00 किमी. का निर्माण कराया गया है। नेडा द्वारा 246 सोलर स्ट्रीट लाईट एवं 07 एल0ई0डी0 हाईमास्ट लाईट की स्थापना की गयी है। ग्रामीण अभियऩ्त्रण विभाग द्वारा कोदई में महिला सुविधा केन्द्र की स्थापना ₹61.20 लाख, बहुउद्देश्यीय मैरेज हाल ₹60.00 लाख, ग्राम चेरूई में म्यूजियम(2000वर्गफीट) ₹60.00 लाख, ग्राम चेरूई में (1100वर्ग फीट) सामुदायिक हाल, मरकुड़ी, कोदई में पंचायत भवन का निर्माण कराया जा रहा है। खण्ड विकास अधिकारी, नगवॉ द्वारा ग्राम चेरूई, कोदई व पल्हारी में खेल मैदान, 05 मॉडल ऑगनबाड़ी केन्द्र, ग्राम कोदई एवं चेरूई में मिनी लाईब्रेरी भवन, पॉच यात्री शेड आदि का निर्माण कराया जा रहा है। सिंचाई एवं जलागम प्रबन्धन के अन्तर्गत 03 बंधियों का निर्माण एवं कृषि कार्य हेतु खाद एवं बीज भण्डारण के लिए ग्राम चेरूई में 250 मी0टन क्षमता के गोदाम के निर्माण हेतु कार्यवाही प्रचलित है। उक्त जानकारी सूचना विभाग के नेसार अहमद ने दी।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!