महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से की मुलाकात

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने आज दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की । इस मुलाकात के बाद उद्धव ठाकरे ने कहा कि पीएम मोदी के साथ महाराष्ट्र से जुड़े मुद्दों पर अच्छी चर्चा हुई । उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के साथ सीएए, एनपीआर और एनआरसी पर चर्चा की । किसी को सीएए से डरने की जरुरत नहीं है । राष्ट्रीय जनसंख्या पंजी (एनपीआर) किसी को देश से बाहर नहीं करेगी।

महाराष्ट्र की कमान संभालने के बाद उद्धव ठाकरे पहली बार दिल्ली पहुंचे थे । उद्धव के साथ उनके बेटे आदित्य ठाकरे ने पीएम मोदी से मुलाकात की। उद्धव ठाकरे ने कहा, ”हमने नागरिकता संशोधन अधिनियम, नागरिकों के राष्ट्रीय रजिस्टर और राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर पर चर्चा की है । मैंने पहले ही इन मुद्दों पर अपना रुख साफ कर दिया है । किसी को सीएए से डरना नहीं चाहिए ।”

मीडिया से बातचीत करते हुए उद्धव ठाकरे ने कहा, ”सीएए कानून किसी से किसी की नागरिकता लेने के लिए नहीं है । बल्कि यह तो पड़ोसी देशों के अल्पसंख्यकों को नागरिकता देने का कानून है ।’ जब उद्धव मीडिया को संबोधित कर रहे थे तो उनके साथ पार्टी के सीनियर नेता और राज्यसभा सांसद संजय राउत भी मौजूद थे ।

गठबंधन में कोई मतभेद नहीं

इसके साथ ही उद्धव ठाकरे ने कहा कि महाराष्ट्र में गठबंधन सहयोगियों के बीच कोई मतभेद नहीं है. उन्होंने कहा कि हम महाराष्ट्र सरकार पांच साल तक चलाने वाले हैं । गौरतलब है कि महाराष्ट्र में शिवसेना ने एनसीपी और कांग्रेस की मदद से सरकार बनाई।

मुख्यमंत्री बनने के बाद उद्धव ठाकरे की पीएम मोदी से ये दूसरी मुलाकात थी । इससे पहले पिछले साल जब पीएम मोदी पुणे पहुंचे तो बतौर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने पीएम मोदी को रिसीव किया था । मुख्यमंत्री की शपथ लेने के बाद ही उद्धव ठाकरे ने कहा था कि वे दिल्ली जाकर अपने ‘बड़े भाई’ पीएम मोदी से मुलाकात करेंगे ।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!