बेटी की मौत पर अस्पताल में बवाल, परिजनों ने लगाया लापरवाही का आरोप

वाराणसी । शक्तिनगर के रहने वाले तीमारदार ने एक निजी अस्पताल पर बड़ा आरोप लगाते हुए हंगामा खड़ा कर दिया । जिसके बाद पुलिस का मौके पर आना पड़ा और मामले की जांच की जा रही है । शक्तिनगर निवासी कृतिका केसरी को सांस लेने में दिक्कत हो रही थी । जिसके लिए परिजन कृतिका (13) को वाराणसी के एक निजी अस्पताल में 10 दिन पहले भर्ती करा दिया । पिछले 10 दिनों से इलाज के वावजूद डॉक्टर कृतिका को नहीं बचा सके और आज उसे मृत घोषित कर दिया । मौत की खबर सुनते ही परिजन हंगामा करने लगे । मृतिका के चाचा निखिल केशरी ने बताया की 10 दिन पहले हॉस्पिटल में आये थे । लगभग 4 लाख 50 हजार रुपए हॉस्पिटल में लेने के बाद भी बच्ची को यहा के डॉक्टर नही बचा पाए।

परिवार वालो ने आरोप लगाया कि कल ही उनकी बच्ची मर चुकी थी लेकिन 24 घन्टे हॉस्पिटल में रखने के बाद उन्हे आज बताया गया कि उनकी बच्ची मर चुकी है। परिजनों ने बताया कि जब वे इस बात को कहना शुरू किया तो हॉस्पिटल के कर्मचारियों से कहासुनी हो गयी । परिजनों का आरोप है कि अस्पताल कर्मचारियों ने उनके परिवार वालों के साथ मारपीट की। जिसके बाद उन्हें पुलिस को बुलाना पड़ा। उन्होंने बताया कि पुलिस ने उन्हें न्याय देने का पूरा भरोसा दोय है और उनका काफी सहयोग मिल भी रहा है । फिलहाल पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज कर जांच शुरू कर दी है ।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!