बसपा जिलाध्यक्ष ने दागी और पार्टी विरोधी कार्यकर्ताओं को दिखाया पार्टी से बाहर का रास्ता

राजेश गुप्ता (संवाददाता)

पीलीभीत । केजीएन 2 कैंप कार्यालय में बसपा कार्यकर्ताओं के साथ बसपा जिलाध्यक्ष चंद्रशेखर आजाद तथा विधान सभा प्रभारी नफीस अहमद के नेतृत्व में एक बैठक का आयोजन किया गया । जिसमें बसपा जिलाध्यक्ष ने पार्टी में दागी और पार्टी विरोधी कार्य कर रहे तीन कार्यकर्ताओं को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाया है। जिलाध्यक्ष चंद्रशेखर आजाद ने बताया कि बसपा एक अनुशासित पार्टी है तथा पार्टी में दागी कार्यकर्ताओं की भरमार हो गई थी तथा कुछ कार्यकर्ता पार्टी विरोधी कार्य भी कर रहे थे । राष्ट्रीय अध्यक्ष बहन कुमारी मायावती के निर्देशानुसार पार्टी में दागी तथा पार्टी विरोधी कार्यकर्ताओं को निष्कासित किया गया है । जिसमें काशीराम सरोज को 2 फरवरी 2020 को ही निष्कासित कर दिया गया था तथा बालक राम सागर और धर्मेंद्र कुमार को भी पार्टी विरोधी गतिविधियों के चलते बरेली व मुरादाबाद मंडल के प्रभारी गिरीश चंद्र जाटव तथा शमसुद्दीन रायन को 17 फरवरी 2020 को अवगत कराते हुए दिल्ली में देर शाम पार्टी से निष्कासित कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि हरिराम गौतम को 2017 में ही पार्टी विरोधी गतिविधियों के चलते निकाल दिया गया था । अब उक्त निष्कासित लोगों का बसपा पार्टी से कोई भी वास्ता नहीं है तथा इन लोगों को पार्टी से निकाले जाने पर बसपा पार्टी और भी मजबूत होगी।
बसपा जिलाध्यक्ष चंद्रशेखर आजाद द्वारा आयोजित इस बैठक में विधान सभा प्रभारी नफीस अंसारी के अलावा इलियास अंसारी, बेदप्रकाश गौतम, शिवनंदन वर्मा, जागन लाल, हरचरण मौर्य, रामआसरे कश्यप, संजीव एडवोकेट, रमेश एडवोकेट, लोकेश एडवोकेट, नईम मंसूरी, शंकर सहित अनेक बसपा कार्यकर्ता उपस्थित रहे ।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!