सुरक्षा के मद्देनजर पंचायत उप चुनाव स्थगित, 8 चरणों में होना था चुनाव

जम्मू कश्मीर में 5 मार्च से निर्धारित पंचायतों के उपचुनाव को सुरक्षा मुद्दों के मद्देनजर स्थगित कर दिया गया है । जम्मू कश्मीर के मुख्य निर्वाचन अधिकारी शैलेंद्र कुमार ने कहा कि अगले 2 से 3 हफ्तों में चुनावों के लिए फिर से नोटिफिकेशन जारी किया जाएगा । जम्मू-कश्मीर में 12,500 से अधिक पंचायत सीटों के लिए पांच मार्च से आठ चरणों में उपचुनाव होने वाले थे ।

शैलेंद्र कुमार ने कहा, “पंचायतों के उपचुनावों को सुरक्षा कारणों से तीन सप्ताह के लिए स्थगित कर दिया गया है ।” उन्होंने कहा कि सुरक्षा मामलों को लेकर गृह विभाग से मिली जानकारी के बाद यह कदम उठाया गया । पंचायत उपचुनाव पांच से 20 मार्च के बीच आठ चरण में होने वाले थे । इनमें बेलेट बाक्स का इस्तेमाल किया जाना था ।
इससे पहले मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने कहा था कि केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख ने अभी तक हमें चुनाव संचालन के लिए अनुरोध नहीं भेजा है, इसलिए हमने लद्दाख को इसमें शामिल नहीं किया है । वैसे भी लद्दाख अभी बर्फ से घिरा हुआ है और वहां बहुत ठंडा है । इसलिए इस समय वहां चुनाव होना संभव नहीं है।

उन्होंने कहा कि उपचुनाव होने के बाद जम्मू-कश्मीर में पंचायती व्यवस्था मजबूत होगी. जम्मू-कश्मीर में पंचायत चुनाव दिसंबर 2018 में करवाए गए थे । नेशनल कांफ्रेंस, पीपुल्स कांफ्रेंस के इन चुनावों का बहिष्कार करने और आतंकवादी संगठनों की धमकियों के कारण कश्मीर में कइ पंचायत हल्कों में चुनाव नहीं हो पाए थे । इसके अलावा बीडीसी चेयरमैन बनने के बाद उन सदस्यों की भी सीटें खाली हो गई हैं ।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!