आज से यूपी बोर्ड परीक्षा शुरू, कैमरे की नजर में हो रहा परीक्षा

फाइल फोटो

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षाएं आज से शुरू हो रही हैं। ऐसा पहली बार हो रहा है, जब इम्तेहान रिकॉर्ड समय में सम्पन्न होंगे । साथ ही परीक्षार्थियों को पंद्रह मिनट अतिरिक्त भी मिलेंगे । यही नहीं बोर्ड परीक्षार्थियों के लिए खास बस सुविधा भी दी गई है । शिक्षा विभाग के अलावा स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) भी नकल विहीन परीक्षा कराने के लिए मुस्तैद रहेगा ।

इस बार की बोर्ड की परीक्षा में पिछले साल की तुलना में एक लाख 88 हजार 638 परीक्षार्थी कम सम्मिलित हो रहे हैं । नकल पर सख्ती बनाए रखने के लिए बोर्ड ने पहली बार परीक्षा कक्षों को सीसीटीवी कैमरों और वायस रिकार्डर लगाने के बाद अब ब्रॉडबैंड व राउटर से जोड़ा है । संवेदनशील और अतिसंवेदनशील परीक्षा केन्द्रों पर एसटीएफ, एलआईयू और पुलिस की भी मदद ली जा रही है ।

यूपी बोर्ड की हाईस्कूल और इण्टरमीडिएट की परीक्षा में इस बार प्रदेश भर में बनाए गए 7784 परीक्षा केंद्रों पर 56 लाख सात हजार 118 परीक्षार्थी परीक्षा देंगे । इनमें 395 केन्द्रों को अतिसंवेदनशील जबकि 938 केन्द्रों को संवेदनशील की श्रेणी में रखा गया है । पिछली बार प्रदेश भर में 8354 परीक्षा केन्द्र बनाये गए थे । इस बार की परीक्षा में हाईस्कूल में 30 लाख 22 हजार 607 परिक्षार्थी और इंटर में 25 लाख 84 हजार 511 परीक्षार्थी पंजीकृत हैं । पिछले वर्ष हाई स्कूल में 31 लाख 92 हजार 587 परीक्षार्थी और इंटर में 26 लाख तीन हजार 169 परीक्षार्थी परीक्षा में बैठे थे । इस तरह पिछले साल की तुलना में इस साल एक लाख 88 हजार 638 परीक्षार्थी कम शामिल हो रहे हैं।

इस बार हाईस्कूल की परीक्षाएं 12 दिन और इंटर की परीक्षाएं 15 दिन तक चलेंगी । यूपी बोर्ड की परीक्षायें दो पालियों में आयोजित की जाएंगी । इस बार परीक्षा केन्द्रों को ब्रॉडबैंड और राउटर से भी जोड़ दिया गया है, जिससे परीक्षा केन्द्रों की ऑनलाइन मॉनिटरिंग हो सकेगी । सभी परीक्षा केन्द्रों पर कुल मिलाकर एक लाख 90 हजार सीसीटीवी कैमरे लगाये गए हैं, जिनकी लखनऊ स्थित निदेशक के शिविर कार्यालय से सीधे मॉनिटरिंग की जा सकेगी ।

इसके साथ ही बोर्ड की ओर से पिछले वर्ष की ही तरह सभी 75 जिलों में बार कोडिंग की कॉपियां भेजी गयी हैं । इस बार कुछ जिलों में सिलाई वाली कॉपियां भी भेजी गई हैं, जिससे कॉपियों के पेज न बदले जा सकें, इसके अलावा कॉपियों को चार कलर में भी छपवाया गया है । परीक्षा में आ रही गड़बड़ियों की शिकायतों की सुनवाई और समाधान को लेकर दो टॉल फ्री नम्बर 1800-180-5310 और 1800-180-5312 भी जारी किए हैं । इन नम्बरों पर परीक्षार्थियों की समस्‍याएं सुनने के लिए बोर्ड मुख्यालय में कन्ट्रोल रूम बनाया गया है । इसके साथ ही शिक्षा मंत्री डॉ दिनेश शर्मा ने ट्विटर हैंडल भी जारी किया है, जिस पर भी बोर्ड परीक्षाओं से सम्बन्धित अपनी समस्याओं को लेकर परीक्षार्थी जानकारी दे सकते हैं ।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!