प्रदेश में खेलो इण्डिया और फिट इण्डिया कार्यक्रम से युवाओं की तैयार हो रही है स्वस्थ नर्सरी

दीनदयाल शास्त्री ब्यूरो

पीलीभीत।खेल की महत्ता भारतवर्ष में सदियों से रही है। खेल प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाने, शारीरिक समन्वय बनाये रखने, शरीर की ताकत को बढ़ाने और मानसिक शक्ति में मजबूती लाता है। नियमित आधार पर खेल खेलने से व्यक्ति के चरित्र और स्वास्थ्य निर्माण के साथ-साथ व्यक्ति को अनुशासित, साहसी एवं स्फूर्तिवान बनाने में मदद करता है। खेल का सच्चा आनन्द बाल्यावस्था में आता है। वह खेल चाहे घर का हो या गली, मुहल्ला, पार्क या स्कूल का। विश्व के देशों में खेलों का बड़ा महत्व है। आज के आधुनिक और प्रगतिशील युग में व्यक्ति की भाग-दौड़ इतनी हो गई है कि वह अपना शारीरिक एवं मानसिक संतुलन संभाल नहीं पा रहा है, ऐसे में खेल ही उसे शारीरिक एवं मानसिक रूप से फिट रखता है। भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश के युवक/युवतियों को खेलों के प्रति आकर्षित करते हुए उन्हें फिट बनाने तथा देश के लिए खेलों में नाम रोशन करने के उद्देश्य से ‘‘खेलो इण्डिया कार्यक्रम’’ शुरू किया, जिसका मुख्य उद्देश्य उन खिलाड़ियों को प्रेरित करना है, जो कि खेलों में निपुण होने के बाद भी आर्थिक कारणों से खेल में अपना कैरियर नहीं बना पाते हैं। ऐसे ग्रामीण एवं शहरी खिलाड़ियों की खोज कर उन्हें राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय स्तर तक ले जाना ही खेलो इण्डिया का लक्ष्य है। ऐसे खिलाड़ी जो भारत के नागरिक हैं और 10 से 18 वर्ष के बीच के हैं, सम्बंधित खेल के आधार पर उनका चयन किया जाता है। ऐसे खिलाड़ियों की पढ़ाई भी सुचारू रूप से चलती रहेगी। इस कार्यक्रम के अन्तर्गत चयन होने के लिए अभ्यर्थियों को पंजीकरण कराना होता है। उत्तर प्रदेश सरकार ने संरचनात्मक प्रतियोगिताओं के माध्यम से खिलाड़ियों की प्रतिभाओं का पथ-प्रदर्शन कर उन्हें प्रशिक्षित एवं विकसित करने तथा खेल अवस्थापना सुविधाओं का सृजन करते हुए खेलो इण्डिया कार्यक्रम संचालित कर रही है। इस कार्यक्रम के अन्तर्गत प्रदेश में ग्रामों, ब्लाकों के स्तर पर खेल अवस्थापना सृजन के लिए भारत सरकार द्वारा 19 प्रस्तावों की स्वीकृति प्रदान की गई है, जिनके निर्माण कार्य प्रगति पर है। इसके अतिरिक्त जिला स्तरीय कार्यकारी समिति से प्राप्त प्रस्तावों का परीक्षण करते हुए समय-समय पर जिला स्तरीय कार्य समिति के अनुमोदनोपरान्त भारत सरकार को प्रेषित किये जाते हैं। प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा की गई घोषणाओं के क्रम में 19 नये ग्रामीण स्टेडियम की स्थापना की जा रही है।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!