धुएं के गुब्बार से लोगों का बीच बाजार में चलना हुआ मुश्किल

शशि चौबे / संजय केसरी (संवाददाता)

डाला। स्थानीय डाला बाजार में कुछ होटल व्यवसायियों के द्वारा रोजमर्रा के कार्य मे खाना बनाने मे प्रयोग होने वाले इधन में कोयले का प्रयोग होने से उससे उठने वाले धुएं से बीच बाजार में लोगों का चलना मुश्किल हो गया है।इन व्यवसायों से फैलाए जा रहे धुएं से स्थानीय क्षेत्र के डाला बाजार में कई होटल व्यवसायियों के द्वारा कोयले की भट्टी पर संचालन बीच बाजार मे होने से कोयले के धुएं से आसपास में प्रदूषण का वातावरण काफी गंभीर हो गया है कुछ व्यापारियों का कहना है कि दिनभर कोयले के धुएं से कभी कभी दम घुटने जैसा वातावरण हो जाता है सड़कों पर आवागमन होने वाली गाड़ियों से उड़ती धुल से ही बाजारवासी काफी परेशान रहते थे वहीं अब कोयले से उड़ते धुएं से दम घुटने लगा है जिससे सांस लेने में तकलीफ हो़ रहा है। व्यापारियों का कहना है कि इससे लोग गंभीर बीमारियां की चपेट में आ रहे है और अपना जीवन संकट में डालने पर मजबूर होना पड़ रहा है। वही जिला प्रशासन से डाला बाजार की प्रदुषण के राहत की मांग को लेकर लोगों ने ध्यान आकृष्ट कराया है।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!