अपडेट : छात्रों ने कॉलेज प्रबंधन के खिलाफ खोला मोर्चा, आश्वासन पर माने

आनन्द कुमार चौबे/अंशु खत्री (संवाददाता)

सोनभद्र । राजकीय पॉलिटेक्निक कॉलेज के सैकड़ों छात्र-छात्राओं ने कॉलेज प्रशासन के खिलाफ आज मोर्चा खोल दिया। छात्रों का आरोप लगाया कि शिक्षकों ने उनके साथ दु‌र्व्यवहार व अपशब्दों का प्रयोग किया है। छात्रों ने कॉलेज परिसर में नारेबाजी करते हुए प्रदर्शन किया। छात्रों ने कॉलेज प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करते हुए उग्र आंदोलन की चेतावनी दी है। इस प्रकार की सूचना मिलते ही कालेज प्रबंधन का हाँथ-पाँव फूल गया और वो छात्रों को मनाने में जुट गए वहीं इसकी सूचना जब पुलिस प्रशासन को मिली तो जिला अस्पताल लोढ़ी चौकी प्रभारी अरसद खान व चुर्क चौकी प्रभारी अवधेश यादव मौके पर पहुँच स्थिति संभालने का प्रयास करने लगे लेकिन छात्र दुर्व्यवहार करने वाले शिक्षक से माफी मँगवाने पर अड़ गए।

छात्रों के इस रवैए से कॉलेज प्रबंधन ने बैकफुट पर आ गया और आरोपी शिक्षक को छात्रों से माफी माँगनी पड़ी। वहीं कॉलेज प्रबंधन ने दो दिनों में छात्रों से जुड़ी सभी समस्याओं के निवारण के आश्वासन दिया है।

वहीं इस बारे में जब प्रदर्शन कर रहे छात्रों से पुछा गया तो उन्होंने कॉलेज प्रशासन पर तानाशाही रवैया अपनाने का आरोप लगाते हुए कहा कि “कई माह पहले कॉलेज में फैली दुर्व्यवस्था बिजली, पानी, लैब न चलना समेत अन्य समस्याओं को लेकर हमलोगों ने प्रदर्शन किया गया था और जिलाधिकारी से मुलाकात कर समस्या से अवगत कराया था, जिलाधिकारी ने मामले को गंभीरता से लेते हुए इन समस्याओं को हल करने का आश्वासन दिया था लेकिन इस घटना के बाद कॉलेज प्रबंधन की तरफ से सेशनल के नंबर काट लेने की धमकी दी गयी थी और हुआ भी बिल्कुल वैसा ही। हमलोग प्रतिदिन विद्यालय आते हैं, हर टेस्ट देते है बावजूद हमारे नंबर काट लिए गए जबकि जिन छात्रों की उपस्थिती न के बराबर रहती है, उन्हें बेहतर नंबर दिया गया। मामला यहीं नहीं रुका कॉलेज में छात्रों के साथ गाली गलौज करके बात की जाती है। आज हम लोगों ने न्याय की आशा से जिलाधिकारी से मिलने की ठानी है। हम छात्र हैं, गुलाम नहीं।”

वहीं पूरे मामले पर कॉलेज के प्रधानाचार्य बिजेंद्र कुमार ने बताया कि “मैं अभी आया हुँ, जाँच की जा रही है, जिसकी कमी पायी जाएगी कार्यवाही की जाएगी।”

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!