दो दिवसीय जनपद स्तरीय विज्ञान महोत्सव का समापन, शत प्रतिशत अंक पाने वाले छात्र हुए सम्मानित

दीनदयाल शास्त्री (ब्यूरो)

पीलीभीत । नगर के सनातन धर्म बांके बिहारी राम इण्टर कॉलेज के प्रांगण में दो दिवसीय विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी परिषद उत्तर प्रदेश के तत्वाधान में जिला विज्ञान क्लब, द्वारा भारतीय विज्ञान एवं भारतीय वैज्ञानिकों पर दो दिवसीय जनपद स्तरीय विज्ञान महोत्सव का समापन सनातन धर्म बाँके बिहारी राम इंटर कॉलेज में किया गया। कार्यक्रम का प्रारंभ मुख्य अतिथि मुख्य विकास अधिकारी रमेश चन्द्र पाण्डेय ने मां सरस्वती के समक्ष दीप प्रज्ज्वलित करके किया। कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि जिला विकास अधिकारी योगेन्द्र कुमार पाठक एवं जिला विद्यालय निरीक्षक, सन्त प्रकाश रहे। मुख्य अतिथि रमेश चन्द्र पाण्डेय ने बताया कि बच्चों को अपनी रुचि का विषय ही अपने कैरियर के रूप में चयनित करना चाहिये। बच्चों के आदर्श उनके गुरु होते हैं। उन्हे अपने गुरू से बात करना अच्छा लगता है। इसलिये गुरु को बच्चों का रोल मॉडल होना चाहिये। कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि योगेन्द्र कुमार पाठक ने बताया कि बच्चों को अंको के पीछे नही भागना चाहिये वरन विषय के कांसेप्ट को अच्छी तरह से समझना चाहिये। अभिभावकों को भी बच्चों को अंको के लिये दवाब नही डालना चाहिये। वैज्ञानिक गतिविधियां बच्चों के मन में सृजनशील्ता का विकास करती हैं। जिला विद्यालय निरीक्षक सन्त प्रकाश ने बताया कि सभी बच्चो को विज्ञान के कार्यक्रमों मे प्रतिभाग करना चाहिये। इससे बच्चों में खोजी भावना का विकास होता है। जिला विज्ञान क्लब इस दिशा में एक अच्छा प्रयास कर रहा है। जिला समन्वयक चंद्र पाल गंगवार ने बताया कि इस कार्यक्रम का उद्देश्य भारतीय विज्ञान एवं भारतीय वैज्ञानिकों के कार्यों से बच्चों को परिचित कराना है ताकि वह प्रेरणा लेकर कल के वैज्ञानिक बन सके और नये नये अविष्कार कर मानव जाति का कल्याण कर सके। शिक्षक सन्तोष कुमार खरे ने बताया कि इतने विशिष्ट कार्यक्रम प्रत्येक वर्ष होने चाहिये। रिसोर्स पर्सन लक्ष्मीकांत शर्मा एवं उर्मिला देवी ने विभिन्न अलौकिक चमत्कार दिखाकर उनके पीछे छुपे वैज्ञानिक कारणों की विस्तार से व्याख्या की। पढ़ना आदि चमत्कारी विधियां दिखाकर सभी के पीछे छुपे विज्ञान की व्याख्या की। कार्यक्रम में छात्र एवं छात्राओ ने विज्ञान मॉडल, स्लोगन, अलौकिक चमत्कार, क्विज़ प्रतियोगिता में प्रतिभाग किया। जूनियर वर्ग की विज्ञान मॉडल प्रतियोगिता में मधु गंगवार विशेष ने प्रथम, मैकसा ने द्वितीय, सिभान्सी ने तृतीय, अनमोल भारती व अनन्या सिंह ने सान्तवना पुरस्कार व सीनियर वर्ग में ऋषित ने प्रथम, काजल ने द्वितीय, सूरज यादाव ने तृतीय, अक्षत गुप्ता व दीपा ने सान्तवना पुरस्कार, जूनियर वर्ग में अलौकिक चमत्कारों के पीछे छुपे विज्ञान के प्रयोगों के प्रदर्शन एवं स्लोगन प्रतियोगिता में पवन ने प्रथम, उन्जिला ने द्वितीय, लारैव ने तृतीय, उषा व अक्षय ने सान्तवना पुरस्कार, सीनियर वर्ग में जाहन्वी शुक्ला ने प्रथम, अर्जित गंगवार ने द्वितीय, देवांश ने तृतीय, मौली व सत्यदेव ने सान्तवना पुरस्कार, क्विज़ प्रतियोगिता मे जूनियर वर्ग मे सौरभ ने प्रथम, इल्मा ने द्वितीय, राहुल ने तृतीय, आदेश व निखिल ने सान्तवना पुरस्कार प्राप्त किया। प्रथम, द्वितीय, तृतीय स्थान व सान्तवना पुरस्कार प्राप्त करने वाले वाली छात्र-छात्राओं को प्रमाण पत्र एवं पुरस्कार प्रदान कर पुरस्कृत भी किया गया। इस कार्यक्रम मे हाईस्कूल में शैक्षिक वर्ष 2014-15 में शत प्रतिशत अंक पाने वाले मेधावी छात्र-छात्राओं रिषभ शुक्ला, मोह्मद नूर खाँ, अस्मत जहाँ, अपूर्वा मौर्या, एकता भारती, जया गंगवार, निहारीका अवस्थी एवं शैक्षिक वर्ष 2015-16 में छात्र जगत पाल, अंजू गुप्ता, सन्दीप कुमार, अंकित कुमार, अनुराग राठौर को प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया गया। मंच संचालन लक्ष्मीकांत शर्मा ने किया। जागरूकता कार्यक्रम में जनपद के सभी माध्यमिक व बेसिक विद्यालयों के लगभग 225 छात्र-छात्राओं, 120 शिक्षकों व 55 अभिभावकों ने प्रतिभाग किया।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!