कलीनगर क्षेत्र में बाघ की सूचना से क्षेत्र में भय का माहौल, मौके पर पहुँची वन विभाग की टीम

राजेश गुप्ता (विशेष संवाददाता)

पीलीभीत । जनपद पीलीभीत की तहसील कलीनगर क्षेत्र में बाघ के होने की सूचना क्षेत्रवासियों के द्वारा वन विभाग के अधिकारियों को दी गई है क्षेत्र में बाल होने की खबर से क्षेत्र में भय का माहौल बना हुआ है वहीं सूचना पर वन विभाग के आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं।

प्राप्त जानकारी के अनुसार माधोटांडा-पीलीभीत मार्ग मे स्थिति नवदिया क्षेत्र मे मंगलवार को एल एच चीनी मिल की भूमि की जुताई करने के लिए मिल का ट्रेक्टर चालक सुरेश अपने एक अन्य मजदूर बेनी राम के साथ गया था । जब दोनों लोग गन्ने के खेत के करीब पहुचे तब सामने खेत में बाघ को बैठा देख कर भयभीत हो गए और दोनों कर्मचारी ट्रेक्टर छोड़ भाग निकले। इसकी जानकारी मिल के अन्य कर्मचारियों के द्वारा वन विभाग को दी गई। सूचना मिलने पर वन दरोगा अजायब सिंह स्टाफ के साथ मौके पर पहुंची तथा जानकारी करते हुए बाघ के पग चिन्ह ट्रेस कर इसकी जानकारी अपने उच्चअधिकारियो को दी। वहीं सूचना पर उप जिलाधिकारी हरिओम शर्मा एवं पुलिस भी मौके पर पहुंच गए तथा ग्रामीणों की भीड को दूर कराया गया। वन विभाग की टीम द्वारा गन्ने के खेत मे बाघ पकड़ने के लिये तथा बाघ की घेराबंदी के लिए जाल भी लगाया गया। इस दौरान शाम होने के कारण और अधेरा होने की बजह से अभियान रोक दिया गया। जबकि वन विभाग की टीम पूरी रात निगरानी करती रही। दूसरे दिन बुधवार को बराही के वन क्षेत्राधिकारी डी. के. गोयल ने मौके पर जाकर निरीक्षण किया है। सामाजिक वानिकी के अयूब हसन.व अजमेर सिंह स्टाफ के साथ निगरानी करते रहे । इसी बीच 4 बजे सामाजिक वानिकी निदेशक संजीव कुमार ने मौके का निरीक्षण कर आवश्यक निर्देश दिए घटनास्थल पर ड्रोन कैमरा न होने के कारण बाघ की सही लोकेशन नहीं मिल पायी है।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!