संत शिरोमणि रविदास जी की धूमधाम से मनाई गई 643 वीं जयंती

रिविन शुक्ला (संवाददाता)

बिलसंडा पीलीभीत । ब्लॉक क्षेत्र के गांव भूड़ा नगरिया में सन्त शिरोमणि रविदास की जयंती एवं बुद्ध विहार उद्दघाटन समारोह का ग्राम वासियों एवम सामाजिक संस्थाओं ने मिलकर किया आयोजन।
वही बताया गया है कि कार्यक्रम की अध्यक्षता सुनीता अम्बेडकर ने की व मुख्य अतिथि जसविंदर कौर रही। विशिष्ट अतिथि गुरुमीत राम, अतर सिंह , राजवीर और मुख्य वक्ता के रूप में जय प्रकाश रहे।
इस अवसर पर वक्ताओं ने सन्त शिरोमणि गुरू रविदास जी के जीवन संघर्ष से परिचित कराया। मुख्य अतिथि जसविन्दर कौर ने कहा गुरू जी के द्वारा समाज को अंधविश्वास से किस प्रकार से निकलने का कार्य किया गया था! विशिष्ट अतिथि गुरुमीत राम ने कहा वह आज भी अनुकरण करने योग्य हैं।
मुख्य वक्ता जय प्रकाश ने कहा गुरू जी कहते है कि-
जाति न पूछो सन्त की पूछ लेउ ज्ञान
उनका मानना था कि किसी भी जाति में जन्म लेने से कोई भी व्यक्ति उच्च या निम्न नहीं हो सकता है। और एशोसिएशन की तरफ से जिला अध्यक्ष रामकिशन ने कहा व्यक्ति का ज्ञान और कर्म ही उसे उच्च या निम्न बनाते है।
व्यक्ति अपने कार्यों से ही अपने जीवन उच्च बना सकते है। इसी बीच एशोसिएशन के महा सचिव अंकित गौतम ने बोलते हुये कहा हमें अपने आप को कर्म के द्वारा श्रेष्ठ बनना होगा।गुरु जी कहते थे कि, *मन चंगा तो कठौती में गंगा* उनका मानना था कि भगवान को खोजने के लिए तीर्थ यात्रा की कोई जरूरत नहीं है, ईश्वर तो आपके शरीर में ही है।कार्यक्रम की अध्यक्षता सुनीता ने की और कहा गुरु रविदास जी उस समय के जाने माने सन्त थे आम आदमी ही उनके शिष्य नहीं थे बल्कि चित्तौड़ की रानी झाली व मीराबाई भी उनकी शिष्या थीं। कार्यक्रम का संचालन अंकित कुमार गौतम ने किया। कार्यक्रम में लगभग तीन सौ लोगों ने भाग लिया। आयोजन में अनुसूचित जाति/जनजाति युवा कल्याण एसोसिएशन, पीलीभीत, प्रीती शिक्षा निकेतन, पंचशील शिक्षा निकेतन, डॉ आंबेडकर शिक्षण संस्थान, बमरौली ने संयुक्त रूप से किया। कार्यक्रम में एशोसिएशन के पदाधिकारियों में रामकिशन अम्बेडकर (अध्यक्ष) आनंद प्रकाश (उपाध्यक्ष) अंकित गौतम ( महा सचिव ) राजेश कुमार (कोषाध्यक्ष) और जितेंद्र कुमार ( जिला मीडिया प्रभारी ) ,मोनू ,विशाल , बलराज आदि लोग उपस्थित रहे।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!