फिल्म ‘Malang’ की समीक्षा

जब मलंग का ट्रेलर आया था तो अंदाज लगाया गया था कि फिल्म ठीकठाक होगी, कोई खास कहानी या दिलचस्प ट्व‍िस्ट नहीं होंगे. कई लोगों ने यहां तक सोच लिया था कि तो मलंग को फिल्म मिलाप जावेरी की मरजावां को टक्कर देगी. सोचा था ना?!!
लेकिन आपके सुकून के लिए बता दूं कि ऐसा कुछ भी नहीं है और मलंग की कहानी सही में काफी अच्छी है. डायरेक्टर मोहित सूरी एक बार फिर आदित्य रॉय कपूर के साथ अपनी फिल्म लेकर आए हैं और ये फिल्म काफी दिलचस्प है.

फिल्म की कहानी:
ये कहानी है अद्वैत ठाकुर (आदित्य रॉय कपूर), जो अपने प्यार सारा (दिशा पाटनी) को खोने के बाद शहरभर के पुलिसवालों के खून का प्यासा हो गया है. अद्वैत 24 दिसंबर की रात को मैनहंट पर निकलता है और अपने पहले मर्डर से पहले इंस्पेक्टर अगाशे (अनिल कपूर) को फोन कर कहता है कि उसे एक मर्डर रिपोर्ट करना है. एक पुलिसवाले की मौत के बाद आकाशे और स्पेशल ब्रांच के अफसर माइकल रॉड्रिगेज (कुणाल खेमू) के कातिल की खोज में लग जाते हैं.
आखिर क्या है इस कातिल का सच और मकसद ये आपको फिल्म में देखने को मिलेगा.

फिल्म में परफॉरमेंस:
अद्वैत ठाकुर के किरदार में आदित्य रॉय कपूर का काम ठीक है. अद्वैत एक आवारा, रिश्तों से भागने वाला लड़का है, जो एक अजनबी लड़की को दिल दे बैठता है और अब बदले की आग में जल रहा है. वर्तमान में जीने वाले लड़के के रूप में आदित्य ने अच्छा काम किया है. हालांकि फिल्म कलंक में उन्होंने जितना बढ़िया अभिनय करके दिखाया था वो आपको मलंग में देखने को नहीं मिलता.

आदित्य ने अपनी बॉडी पर जो मेहनत इस फिल्म के लिए की है, वो आपको देखने को मिलेगी और पसंद भी आएगी. वहीं सारा नाम्बियार के किरदार दिशा पाटनी भी ठीक हैं. उनके एक्सप्रेशन्स में आपको कुछ नया देखने को नहीं मिलेगा, जो कि अच्छी बात नहीं है. हालांकि उनके किरदार को अच्छे से बनाया गया है.

भ्रष्ट और नशेड़ी इंस्पेक्टर अगाशे के रोल में अनिल कपूर ने काफी अच्छा काम किया है. वहीं माइकल रॉड्रिगेज के किरदार में कुणाल खेमू कमाल हैं. रिलीज से पहले उनके किरदार के बारे में ज्यादा खुलासे नहीं किए गए थे. लेकिन फिल्म में उनका किरदार और काम दोनों ही सरप्राइज पैकेज हैं.

इसके अलावा मलंग में एली अवराम, वत्सल सेठ, कीथ सेकुएरा, अमृता खानविलकर आदि संग अन्य एक्टर्स ने काम किया है. इस सभी का काफी अच्छा है.

फिल्म में डायरेक्शन:
आशिकी 2 और एक विलेन जैसी फिल्में बनाने वाले डायरेक्टर मोहित सूरी ने एक फिर एक अच्छी फिल्म जनता को दे दी है. इस फिल्म में भरपूर एक्शन, मसाला, ट्विस्ट, बोल्डनेस और रोमांस सबकुछ है. मोहित ने इस फिल्म को आज के दर्शकों को ध्यान में रखकर बनाया है. हालांकि फिल्म के कुछ सीन्स देखकर आपको सिद्धार्थ मल्होत्रा की फिल्म एक विलेन की याद जरूर आएगी.

इस फिल्म में गोवा को अच्छे से दिखाया गया है. वहां होने वाली पार्टियां, ड्रग्स में डूबे लोग, हिप्पी कल्चर को आप मलंग में देखेंगे. फिल्म का थोड़ा ओके-ओके है. इसका बैकग्राउंड स्कोर आपके कान फाड़ने की कोशिश करता है तो वहीं चल घर चलें जैसे गाने अच्छे लगता हैं. कुल-मिलाकर आप इस फिल्म को एक बार तो देख ही सकते हैं.


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!