केजरीवाल के हमले के बाद चुनाव आयोग ने जारी किया दिल्ली वोटिंग प्रतिशत

दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए शनिवार को वोटिंग के बाद मत के आंकड़ों को लेकर आम आदमी पार्टी ने चुनाव आयोग पर आरोप लगाए थे । अरविंद केजरीवाल ने चुनाव आयोग पर हमला बोलकर कहा था कि वोटिंग के घंटों बाद भी चुनाव आयोग ने वोटिंग का प्रतिशत जारी क्यों नहीं किया । अब आयोग ने इस विवाद पर विराम लगा दिया है । आयोग ने रविवार शाम को प्रेस कॉन्फ्रेंस करके बताया कि दिल्ली विधानसभा चुनावों में मतदान प्रतिशत 62.59 रहा है। यह पिछले लोकसभा चुनावों की तुलना में लगभग 2% अधिक है।
चुनाव आयोग ने कहा कि दिल्‍ली में शनिवार रात तक वोटिंग जारी थी । देर रात तक डेटा इक्‍ट्ठा किया जा रहा था । आयोग ने कहा कि सबसे अधिक मतदान बल्लीमारान विधानसभा क्षेत्र में 71.6 प्रतिशत दर्ज किया गया, जबकि सबसे कम मतदान दिल्ली छावनी में 45.4 प्रतिशत दर्ज किया गया।

दरअसल दिल्ली विधानसभा चुनाव में नजीतों से पहले आम आदमी पार्टी ने चुनाव आयोग पर हमला बोला था । आप ने सवाल करते हुए कहा कि वोटिंग के घंटों बाद भी चुनाव आयोग ने वोटिंग का प्रतिशत जारी क्यों नहीं किया है । बता दें, दिल्ली विधानसभा चुनाव में शनिवार को शाम छह बजे तक 57.06 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया था । वहीं रात 10.30 बजे तक 61.46% मतदान हुआ । लेकिन एक फाइनल फिगर सामने नहीं आया था ।

आप के संयोजक और दिल्ली से सीएम अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट करते हुए कहा कि यह निश्चित ही हैरान करने वाला है । चुनाव आयोग क्या कर रहा है? मतदान के कई घंटों बाद भी चुनाव आयोग वोट प्रतिशत जारी क्यों नहीं कर रहा है ।

AAP नेता संजय सिंह ने कहा, “कल दिल्ली के चुनाव संपन्न हुए, 70 साल के इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ होगा कि चुनाव आयोग ये बताने को तैयार नहीं कि कितने प्रतिशत मतदान हुआ। इसका मतलब कहीं कुछ दाल में काला है, अंदर ही अंदर कोई खेल चल रहा है।”

वहीं, केजरीवाल के हमले के बाद चुनाव आयोग ने कहा था कि डेटा एंट्री का काम पूरा होने पर फाइनल आंकड़े जारी किए जाएंगे । चुनाव आयोग ने कहा कि रविवार देर शाम तक मतदान के फाइनल आंकड़े जारी कर दिए जाएंगे ।

11 फरवरी को आएंगे चुनाव नतीजे

दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए सभी 70 सीटों पर वोटिंग शनिवार को हुई । दिल्ली के चुनाव में मुख्य तौर पर आम आदमी पार्टी, कांग्रेस और बीजेपी के बीच सीधा मुकाबला है। दिल्ली विधानसभा के इस चुनाव में 1.47 करोड़ पंजीकृत मतदाताओं ने अपने वोट का प्रयोग किया । दिल्ली में सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी (आप) और विपक्षी दल भाजपा एवं कांग्रेस सहित कुल 672 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं। जिनके भाग्य का फैसला 11 फरवरी को सामने आएगा, जब चुनाव नतीजे घोषित होंगे ।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!