आदमी रिश्ता में ही पैदा होता है : डॉ सन्तकुमार त्रिपाठी

कुलदीप यादव (संवाददाता)

कमालपुर । चन्दौली स्थानीय कस्बा क्षेत्र के बहेरी गांव में स्कालर्स पब्लिक स्कूल में वार्षिकोत्सव को रिश्ता नामक शीर्षक से मनाया गया। इस अवसर पर रिस्ते की जानकारी को छात्रों को बताई गई। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सकलडीहा पी जी कालेज के पूर्व हिंदी के विभागाध्यक्ष डॉ संत कुमार त्रिपाठी ने रिस्ते पर अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा की आदमी का जन्म ही रिश्ता में होता है।गुरु का रिश्ता ज्ञान से होता है। इसी प्रकार उन्होंने अन्य उपदेश देते हुए अभिभावकों व छात्रों को बताया की गुरु ज्ञान का भंडार होता है। वही माता-पिता का रिश्ता जन्म देने व गुरु दोनो का होता है। उन्होंने आगे कहा की लोग आज समाज मे रिस्ते भूल गए है। जो आज समाज मे हर गलत काम को कर बैठते है।
कार्यक्रम की शुरुआत सर्वप्रथम मा सरस्वती के तैल चित्र के समक्ष दीप प्रज्वलित कर शुरू किया गया। इसके उपरांतसरस्वती बन्दना आरती रस्तोगी, फिजा खान, अनामिका यादव द्वारा प्रस्तुत किया गया। इसके बाद स्वागत गीत शौम्य यादव, आयुषी, दिव्या सिंह ने प्रस्तुत किया। शुभ दिन आयो रे आयो रिया उपाध्याय, अध्य्या सिंह, रुक्सार बानो ने प्रस्तुत कर लोगो को भाव विभोर कर दिया,भाई बहन नाटक अनामिका, आलोक, आर्यन सिंह व संजय, ममता निधि द्वारा प्रस्तुत किया गया।आधुनिक युग मोबाइल प्रभाव में राम बाबू, आनन्द शुक्ला, कासिम खान द्वारा प्रस्तुत किया गया। वही चांद से प्यारी दादी माँ का कार्यक्रम ने लोगो को रिश्ता का अहसास कराया कार्यक्रम में डॉ देवेंद्र यादव, आशीष, अंजनी सिंह, रजनीकांत सहित अन्य द्वारा अपने विचार प्रकट किया गया । कार्यक्रम का संचालन मृत्युंजय सिंह द्वारा किया गया। स्कूल के मैनेजिंग डायरेक्टर अनीस खा ने आगन्तुको स्वागत किया।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!