डीआरएम ने मां विंध्यवासिनी के दरबार में टेका मत्था

राजीव दुबे (संवाददाता)

– आगामी मेले में दर्जनभर ट्रेनों का होगा ठहराव

मिर्जापुर । मंडल रेल प्रबंधक अमिताभ अपने सहयोगियों के साथ विंध्य धाम में पहुंचकर मां विंध्यवासिनी के चरणों में श्रद्धा सुमन अर्पित कर आशीर्वाद लिया। इस दौरान पत्र प्रतिनिधियों से मुखातिब होते हुए कहा कि देश का महत्वपूर्ण धार्मिक तीर्थ स्थल आज एक महत्वपूर्ण धार्मिक स्थान हो गया है। विंध्य कारी डोर निर्माण हो जाने से अंतरराष्ट्रीय स्तर पर धार्मिक तीर्थ स्थल का महत्व व्यापक बन जाता है, और आने वाले दिनों में इस विंध्य धाम में ट्रेनों का ठहराव व सुविधा भी बढ़ाया जाएगा। उक्त बातें रेल मंडल प्रबंधक अमिताभ ने आज चुनार-चोपन रेलवे विद्युतीकरण ट्रेनों के परिचालन कार्यक्रम शुभारंभ करने पहुंचे थे। रेल मंडल प्रबंधक ने चुनार से ट्रेनों के आवागमन परियोजना शुभारंभ के पश्चात वापस लौटते समय विंध्यधाम में पहुंचकर जहां दर्शन पूजन किया वहीं विंध्याचल रेलवे स्टेशन का भी निरीक्षण किया। इस दौरान तमाम खामियों को देखते हुए नाराजगी व्यक्त किया तथा चेतावनी देते हुए। यात्रियों के सुख सुविधा व साफ-सफाई पर विशेष ध्यान देने का कड़ा निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि आगामी चैत्र नवरात्र मेला में के दौरान लगभग एक दर्जन ट्रेनों का ठहराव किया जाएगा जिससे देश के अनेक भागों से आने वाले यात्रियों को किसी प्रकार की आवागमन में असुविधा ना होने पाए। इसके साथ ही अन्य सुविधाओं की व्यवस्था की जाएगी। लखनऊ जाने के लिए त्रिवेणी के अलावा अन्य ट्रेनों के सवाल पर बताया कि वाराणसी से होकर जाने के लिए कई ट्रेन हैं। अगर यात्री वाराणसी होकर जाएंगे तो उन्हें सहूलियत मिलेगी इस दौरान जोधपुर-हावड़ा रुकने के लिए बताया कि इसके लिए रेलवे बोर्ड से बातचीत करके अंतिम फैसला लिया जाएगा। सर्कुलेटिंग एरिया में रुके हुए कार्य के सवाल पर बताया कि इसके लिए धन मिलते ही कार्य पूर्ण करा लिया जाएगा लेकिन नवरात्र के पूर्व कार्य कराया जाना संभव नहीं है।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!