पुलिस के सहयोगी बने एसपीसी, एसपी ने मुलाकात कर दिया मार्गदर्शन

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । भारत सरकार गृह मंत्रालय की “स्टूडेंट पुलिस कैडेट कार्यक्रम” स्कूल आधारित युवाओं के विकास के लिए तैयार की गई है। स्टूडेंट पुलिस कैडेट को इनडोर व आउटडोर प्रशिक्षण देकर इन्हें संवेदनशील व जिम्मेदार बनाने ताकि वे अपराध नियंत्रण व शांति व्यवस्था बनाए रखने में पुलिस की मदद कर सके। योजना का कुशल क्रियान्वयन पुलिस अधीक्षक आशीष श्रीवास्तव के मार्गदर्शन में हो रहा है।

इसी क्रम में आज पुलिस अधीक्षक आशीष श्रीवास्तव ने राजकीय बालिका हाईस्कूल-गोठानी में एसपीसी के तहत चयनित छात्र/छात्राओं से मुलाकात कर उन्हें जरूरी मार्गदर्शन दिया।

कार्यक्रम के दौरान पुलिस अधीक्षक आशीष श्रीवास्तव ने बताया कि “स्टूडेंट पुलिस कैडेट एक स्वैच्छिक छात्र संगठन के रुप में विकसित किया गया है। इस कार्यक्रम का उदेश्य किशोर छात्र-छात्राओं में ड्रग एब्युज, बाल यौनाचार के प्रति जागरुकता पैदा करना, कानून का पालन करने की आदत डालना, व्यवस्था विरोधी आक्रमकता को रोकना, नागरिकता, समरुपता, धर्म निरपेक्ष दृष्टिकोण की भावना तथा नेतृत्व के गुण पैदा करना, सामाजिक प्रतिबद्धता सेवा में तत्परता, समाज के अन्य सदस्तों को प्रेम को बढ़ावा देना, अन्य गंभीर अपराध एवं बुराइयों के प्रति किशोरावस्था के विद्यार्थियों में जागरुकता पैदा कर इनकी रोकथाम करना व छात्र/छात्राओं को सुरक्षा और शांति के प्रति जागरुक कर उनमें आत्मबल पैदा करने व समाज में सकारात्मक परिवर्तन लाने का प्रयास करना है। यह कार्यक्रम “WE LEARN TO SERVE” के सिद्धांत पर आधारित हैं।”


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!