जेड जीनियस किड्स के द्वारा 07 व 08 फरवरी को ब्रेन ओलम्पिआड का हुआ आयोजन

घनश्याम पाण्डेय/विनीत शर्मा(संवाददाता)


चोपन। ब्रेन ओलम्पिआड एक नयी पहल है जिसमे 3 से 6 साल तक के बच्चों ने भाग लिया जिसमे बच्चों की उम्र के अनुसार अलग अलग ब्रेन गेम्स थे जिसमे एकाग्रता और गति दोनों की जरुरत थी। इस ओलंपियाड प्रतियोगिता में विश्व के किसी भी कोने से 6 साल तक का कोई भी बच्चा भाग ले सकता है।

ब्रेन ओलिम्पियाड के विजेता – केजी 2 के अनय सोनकर, केजी 1 के मृदुल धौरिया और नरसरी की सुहानी रहीं। इसके अलावा द्वितीय, तृतीय, बेस्ट स्टूडेंट, बेस्ट पेरेंट्स और बेस्ट टीचर का भी अवार्ड महेश प्रसाद रॉय, सुभाष रॉय, ब्लॉक प्रमुख बबली व नवनिर्वाचित नगर पंचायत अध्यक्ष फरीदा बेगम के द्वारा दिया गया।

इस दौरान आयोजित प्रतियोगिता में जिस पहेली पुज्जल को 15 मिनट में करने में बड़ों के पशीने छूट जाते हैं उसे इन बच्चों ने मात्र 5 मिनट में करके अपने जीनियस होने का सबूत दे दिया। ब्रेन ओलिंपियाड के व्यवस्थापक व जेड जीनियस किड्स के प्रबंधक सुजीत कुमार रॉय ने बताया की इस तरह की शिक्षा व्यवस्था जिसमे बच्चे पढ़ने से ज्यादा करके सीखते हैं यदि इसे बढ़ावा मिले तो सोनभद्र के छात्र/छात्राएं अवश्य विश्व में भारत का नाम रोशन करेंगे।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!