एसबीआई के चीफ मैनेजर ने किया स्वयं सहायता समूहों का अौचक निरीक्षण

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । आज भारतीय स्टेट बैंक के चीफ मैनेजर चन्द्र शेखर प्रसाद एवं शाखा प्रबधंक भारतीय स्टेट बैंक जुगैल ने राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन द्वारा संचालित उत्तर प्रदेश राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन के स्वयं सहायता समूहों का अौचक निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन द्वारा संचालित स्वयं सहायता समूह को ग्राम विकास विभाग से ₹15000 आरएफ और ₹110000 सीआईएफ की धनराशि दी जाती है और सीसीएल बैंक द्वारा किया जाता है। विकासखंड चोपन के ग्राम पंचायत जुगैल में उत्तर प्रदेश राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन द्वारा संचालित समूहों का सीसीएल करने के उद्देश्य से चीफ मैनेजर द्वारा स्वयं सहायता समूहों का अौचक निरीक्षण कर स्वयं सहायता समूहों की वास्तविक स्थिति को जाना अौर समूहों के बुक्स ऑफ रिकॉर्ड को चेक किया। विकास खण्ड चोपन की ग्राम पंचायत जुगैल अति दुरुह एवं दुर्गम क्षेत्र है। चीफ मैनेजर ने समूहों का आकस्मिक निरीक्षण कर के सदस्यों से बातचीत कर काफी प्रभावित हुए। सदस्यों को रोजगार के लिए प्रोत्साहित किए अौर आजीविका मिशन अौर बुक्स ऑफ रिकार्ड की स्थिति की सराहना भी की।

आजीविका मिशन के मिशन मैनेजर रोहित मिश्रा ने बताया कि भारतीय स्टेट बैंक शाखा जुगैल में 39 समूहों की सीसीएल पत्रावलियाँ लम्बित पड़ी हैं। चीफ मैनेजर अौर शाखा प्रबंधक भारतीय स्टेट बैंक जुगैल द्वारा तीन समूहों का अौचक निरीक्षण किया अौर प्रसन्नता जाहिर की। चीफ मैनेजर अौर शाखा प्रबंधक के सामूहिक अौचक निरीक्षण से स्वयं सहायता समूहों के सदस्य भी प्रसन्न हुए । इस मौके पर बीएमएम (एसआईएसडी) वसीम अख्तर, बैंक मित्रा पान कुमारी, समूह सखी सुधा, तेज बहादुर एवं समूह के अन्य सदस्यगण उपस्थित रहे।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!